पांच प्रमुख ईकॉमर्स कंपनियों को CCPA ने जारी किया नोटिस

सेंट्रल कंज़्यूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी CCPA ने ब्यूरो ऑफ़ इंडियन स्टैंडर्ड्स (बीआईएस) के नियमों पर खरे नहीं उतरने वाले प्रेशर कुकर बचने के लिए पांच ईकॉमर्स कंपनियों को नोटिस जारी किया है.
समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार 18 नवंबर को ये नोटिस अमेज़न, फ़्लिपकार्ट, स्नैपडील, शॉपक्लूज़ और पेटीएममॉल के अलावा कई अन्य विक्रेताओं को भी भेजा गया है.
सरकार ने बयान जारी कर बताया कि क्वॉलिटी कंट्रोल ऑर्डर का उल्लंघन करके नकली और संदिग्ध सामान की बिक्री को रोकने के लिए देश भर में सीसीपीए देश भर में अभियान चला रही है.
सीसीपीए का ये अभियान स्वाधीनता के 75 साल पूरे होने पर शुरू किए गए ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव’ कैम्पेन का हिस्सा है. उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, “ईकॉमर्स कंपनियों के साथ विक्रेताओं को भी इन प्लेटफॉर्म्स पर प्रेशर कुकर बेचने के लिए नोटिस जारी किए गए हैं.”
इस सिलसिले में सीसीपीए ने ज़िलाधिकारियों को भी निर्देश जारी किया है कि ऐसे सामानों के उत्पादन और बिक्री से जुड़े अनुचित व्यापार व्यवहार और उपभोक्ता अधिकार के हनन के मामलों की जांच करें.
अधिकारी का कहना है कि ये पहली बार है कि सीसीपीए ने ईकॉमर्स कंपनियों को ये नोटिस जारी किया है.
उन्होंने बताया, “ईकॉमर्स कंपनियां और विक्रेता उनके प्लेटफॉर्म पर ख़राब गुणवत्ता वाले उत्पाद कैसे बेच सकते हैं. ईक़ॉमर्स कंपनियों को पूरी तरह से जांच परख के बाद ही विक्रेताओं को अपने प्लेटफॉर्म के इस्तेमाल की इजाजत देनी चाहिए क्योंकि वे विक्रेताओं से इसके लिए अच्छा कमीशन लेते हैं. उन्हें अपना कारोबार ज़िम्मेदारी से चलाना चाहिए.”
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *