CBSE परीक्षाओं के लिए सैंपल क्वेस्चन पेपर और मार्किंग स्कीम जारी

नई दिल्‍ली। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन यानी CBSE ने 10वीं और 12वीं क्लास की परीक्षाओं के लिए सैंपल क्वेस्चन पेपर और मार्किंग स्कीम जारी कर दी है।
परीक्षाओं का आयोजन अगले साल फरवरी और मार्च में होगा। 10वीं और 12वीं क्लास के सैंपल क्वेस्चन पेपर बोर्ड की ऑफिशल वेबसाइट पर जारी किए गए हैं।
CBSE की ऑफिशल वेबसाइट cbseacademic.nic.in पर आप 10वीं और 12वीं क्लास के सैंपल क्वेस्चन पेपर और मार्किंग स्कीम को देख सकते हैं।
वैसे आप नीचे दिए गए लिंकों पर सीधे क्लिक करके भी अलग-अलग विषयों का सैंपल क्वेस्चन पेपर और मार्किंग स्कीम चेक कर सकते हैं। http://cbseacademic.nic.in/SQP_CLASSX_2019_20.html
http://cbseacademic.nic.in/SQP_CLASSXII_2019_20.html
इसी बीच दिल्ली कैबिनेट ने CBSE परीक्षा शुल्क से संबंधित सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। 2019-20 से सरकारी स्कूलों के 10वीं और 12वीं क्लास के करीब 3.14 लाख छात्रों का परीक्षा शुल्क सरकार खुद अदा करेगी। इससे सरकारी खजाने पर करीब 57 करोड़ रुपये का दबाव बढ़ेगा।
एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया, ‘बुधवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में कैबिनेट की बैठक हुई। बैठक में 10वीं और 12वीं क्लास के छात्रों की एग्जाम फीस सरकार की ओर से भुगतान करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। अब दिल्ली सरकार सरकारी स्कूल और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल के छात्रों की फीस का भुगतान करेगी।’
आपको बता दें कि CBSE यानी केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने अगले साल 2020 10वीं या 12 वीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए फीसों में बढ़ोत्तरी कर दी है। पूरे देश में दोनों बोर्ड परीक्षाओं के लिए शुल्क में दो गुनी वृद्धि की गई है और अब उन्हें 750 रुपये के स्थान पर 1500 रुपये देने होंगे। दिल्ली के अनुसूचित जाति (एसी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) छात्रों को 1200 रुपये का शुल्क देना होगा जबकि पहले यह 350 रुपये था। दृष्टि बाधित स्टूडेंट्स से कोई फीस नहीं वसूली जाएगी।
विदेश स्थित CBSE के स्कूलों में पढ़ रहे छात्रों को अब पांच विषयों के बोर्ड परीक्षा शुल्क के रूप में 10 हजार रुपये देने होंगे। पहले यह राशि 5 हजार रुपये थी। 12वीं की बोर्ड परीक्षा में अतिरिक्त विषय के लिए इस श्रेणी के छात्रों को अब 1000 रुपये के बजाय 2000 रुपये का शुल्क देना होगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *