CBSE ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्कूलों को दिशा-निर्देश दिए

नई दिल्‍ली। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्ररी एजुकेशन (CBSE) ने देश विदेश के लगभग 22000 स्कूलों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्टूडेंट्स की कॉपियों के मूल्यांकन (इवेल्यूएशन) से जुड़े दिशा-निर्देशों को लेकर चर्चा की। इस दौरान CBSE की चेयरपर्सन अनीता करवाल ने स्कूलों से कहा कि दिशा-निर्देशों का पूरी तरह पालन किया जाए।
कॉपियों के मूल्यांकन की होगी जांच
इस दौरान यह भी बताया गया कि कॉपियों के मूल्यांकन की कई स्तर पर जांच की जाएगी। इसके लिए सॉफ्टवेयर की भी मदद ली जाएगी। इसमें मुख्य परीक्षक के अलावा संयोजक व अन्य अधिकारी भी इसकी जांच कर सकते हैं। ऐसा इसलिए ताकि मूल्यांकन में कोई भी गड़बड़ी हो तो वह पकड़ में आ सके और समय पर सुधार किया जा सकें।
प्राइवेट स्टूडेंट्स के लिए ड्रेस कोड
CBSE की लाइव स्ट्रीमिंग के दौरान दूसरे स्कूलों के शिक्षकों ने भी बोर्ड अधिकारियों से सवाल पूछे। एक सवाल यह भी आया कि रेगुलर स्टूडेंट तो स्कूल ड्रेस में परीक्षा देंगे लेकिन प्राइवेट छात्र कैसे परीक्षा देंगे।
इस पर जवाब देते हुए अधिकारियों ने कहा कि प्राइवेट छात्र हल्के रंग के कपड़े पहनकर परीक्षा दे सकते हैं।
15 फरवरी से शुरू हो रही परीक्षा
CBSE की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 15 फरवरी 2020 से शुरू हो रही हैं। इस बार दसवीं की परीक्षाएं 15 फरवरी से 20 मार्च तक और 12वीं की 15 फरवरी से 30 मार्च तक चलेंगी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *