सुशांत सिंह केस में CBI ने गठित की SIT, मनोज शशिधर करेंगे नेतृत्‍व

नई दिल्‍ली। सुशांत सिंह राजपूत केस में CBI ने जो SIT बनाई है, उसका नेतृत्व पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के काफी भरोसेमंद अधिकारी मनोज शशिधर कर रहे हैं। मनोज सीबीआई में जॉइंट डायरेक्‍टर हैं। मनोज शशिधर के अलावा इस टीम में डीआईजी गगनदीप गंभीर, एसपी नूपुर प्रसाद और अडिशनल एसपी अनिल यादव भी शामिल हैं।
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच करेगी। इसके लिए सीबीआई ने एक स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम यानी एसआईटी का गठन किया है। इस टीम को सीबीआई के जॉइंट डायरेक्‍टर मनोज शशिधर लीड कर रहे हैं। मनोज के अलावा इस टीम में गगनदीप गंभीर, एसपी नूपुर प्रसाद और एडिशनल एसपी अनिल यादव भी शामिल हैं।
मनोज शशिधर
मनोज शशिधर गुजरात काडर के 1994 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। इसी साल जनवरी में पीएम मोदी की अगुवाई वाली कैबिनेट ने शशिधर के सीबीआई के जॉइंट डायरेक्टर के पद पर नियुक्ति की मंजूरी दी थी। शशिधर पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के काफी भरोसेमंद अधिकारियों में गिने जाते हैं। इससे पहले शशिधर गुजरात स्‍टेट इंटेलिजेंस ब्यूरो में अडिशनल डीजी के पद पर तैनात थे। इससे पहले शशिधर बडोदरा पुलिस कमिश्‍नर, अहमदाबाद क्राइम ब्रांच डीसीपी और अहमदाबाद जॉइंट कमिश्‍नर के पद पर भी तैनात रहे हैं।
गगनदीप गंभीर
2004 बैच की गुजरात काडर की आईपीएस अफसर गगनदीप गंभीर मूल रूप से बिहार के मुजफ्फरनगर की रहने वाली हैं। गगनदीप की 10वीं तक की पढ़ाई मुजफ्फरपुर में और आगे की पढ़ाई पंजाब यूनिवर्सिटी से हुई थी। गगनदीप पंजाब यूनिवर्सिटी की टॉपर भी रही हैं। गगनदीप देढ़ साल पहले सीबीआई में आई हैं और अगस्ता वेस्टलैंड, बिहार के सृजन घोटाले जैसे कई हाई प्रोफाइल केसों की इन्वेस्टिगेशन कर चुकी हैं। इससे पहले राजकोट समेत गुजरात के कई जिलों में वह एसएसपी भी रही हैं।
नूपुर प्रसाद
नूपुर प्रसाद एजीएमयूटी काडर की 2007 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं। नूपुर बिहार स्थित टिकारी के सलेमपुर गांव की रहने वाली हैं। वह दिल्ली के शाहदरा की डीसीपी भी रह चुकी हैं। बीते साल ही नूपुर की सीबीआई में बतौर एसपी प्रतिनियुक्ति की गई थी।
अनिल यादव
अनिल यादव सीबीआई में अडिशनल एसपी हैं। कॉमनवेल्थ गेम्स घोटाला, मध्य प्रदेश का व्यापम घोटाला, एमबीबीएस छात्रा नम्रता डामोर की मौत का केस, अगस्ता वेस्टलैंड, शोपियां रेप केस और विजय माल्या केस की जांच कर चुके हैं। अनिल यादव मूल रूप से मध्यप्रदेश से हैं। सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच के लिए बनी एसआईटी में अनिल इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर के तौर पर काम कर रहे हैं। अनिल को 2015 में गणतंत्र दिवस पर पुलिस मेडल से भी सम्मानित किया जा चुका है।
सुप्रीम कोर्ट ने दिए हैं सीबीआई जांच के आदेश
आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत केस में सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को CBI जांच का आदेश दिया है। एससी ने कहा था कि महाराष्ट्र सरकार सीबीआई को सहयोग करे साथ ही तमाम जांच संबंधित दस्तावेज मुहैया कराने में भी मदद करे। कोर्ट ने सीबीआई से कहा था कि वह भविष्य में सुशांत केस से संबंधित मामले को अपने हाथों में ले। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि ये सुनिश्चित किया जाए कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के पीछे के रहस्य की छानबीन के लिए सीबीआई कंपिटेंट जांच एजेंसी है और कोई भी राज्य पुलिस उसकी जांच में दखल न दे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *