कास्टिंग डायरेक्टर रविंद्रनाथ घोष को बलात्‍कार केस में उम्रकैद की सजा

मुंबई। पिछले काफी समय से बॉलिवुड में चल रहे #MeToo कैंपेन के बाद अब एक और सनसनीखेज घटना सामने आई है। हाल में मुंबई की सेशन कोर्ट ने एक कास्टिंग डायरेक्टर रविंद्रनाथ घोष को एक मॉडल और ऐक्ट्रेस से रेप करने के लिए उम्र कैद की सजा सुनाई है। कोर्ट ने सजा के साथ मुजरिम पर 1.31 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है। इस कास्टिंग डायरेक्टर ने केवल मॉडल का रेप ही नहीं किया बल्कि उसकी न्यूड तस्वीरें पति और इंप्लॉयर को भी भेज दीं।
बताया जा रहा है कि पीड़िता साल 2011 में कास्टिंग डायरेक्टर से मिली थी। तब वह एक हॉस्पिटल में काम करती थीं। आरोपी ने खुद को कास्टिंग डायरेक्टर बताते हुए कहा कि वह एक टीवी सीरियल बनाने जा रहा है। इसके बाद ऐक्ट्रेस बनने की चाहत रखने वाली मॉडल पीड़िता ने ऐक्टिंग करने की इच्छा जाहिर की। घोष ने पीड़िता को एक टीवी शो के ऑडिशन में भी भेजा और उसकी मदद करने के बदले सेक्स करने को कहा।
इसके बाद पीड़िता ने उसकी कॉल्स को नजरअंदाज करना शुरू कर दिया। 2012 में लगभग 2 हफ्ते बाद जब पीड़िता ने घोष को कॉल किया तो उसने मड आइलैंड पर मिलने को कहा। वहां आरोपी ने एक लॉज में पीड़िता के साथ रेप किया और उसके न्यूड फोटो ले लिए। घोष ने महिला पर लगातार सेक्शुअल रिलेशन बनाए रखने को कहा और उसके फोटो सार्वजनिक करने की धमकी भी दी। पीड़िता के मुताबिक घोष ने मार्च 2012 तक उनका रेप किया।
आरोपी से बचने के लिए पीड़िता ने अपनी जॉब भी बदल दी लेकिन दिसंबर में उसने पीड़िता से 1 लाख रुपये की डिमांड की। पीड़िता ने जब रुपये देने में असमर्थता जाहिर की तो आरोपी ने बाद में उसके पति और इंप्लॉयर को उसके न्यूड फोटो भेज दिए। इन तस्वीरों के मिलने के बाद पीड़िता के पति ने नवजात बच्चे सहित उसे छोड़ दिया। दिसंबर 2013 में पीड़िता की शिकायत पर आरोपी घोष को गिरफ्तार किया गया था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *