मुझे देश के लिए खतरा बताकर पासपोर्ट देने से इंकार किया: महबूबा मुफ्ती

जम्‍मू। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को दावा किया है कि उन्हें पासपोर्ट देने से मना कर दिया गया है।
साथ ही उन्हें जम्मू-कश्मीर पुलिस के क्रिमिनल इन्वेस्टिगेटिव डिपार्टमेंट (सीआईडी) की रिपोर्ट के आधार पर ‘देश के लिए खतरा’ बताया गया है।
इस बाबत महबूबा मुफ्ती ने रीजनल पासपोर्ट ऑफिसर, श्रीनगर का एक लेटर अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया है। उन्होंने कहा, ”पासपोर्ट कार्यालय ने सीआईडी की रिपोर्ट के आधार पर मेरा पासपोर्ट जारी करने से इंकार कर दिया और कहा गया है कि यह भारत की सुरक्षा के लिए खतरा है। यह अगस्त 2019 के बाद से कश्मीर में हासिल की गई सामान्य स्थिति का स्तर है कि पासपोर्ट पाने वाला एक पूर्व मुख्यमंत्री एक शक्तिशाली राष्ट्र की संप्रभुता के लिए खतरा है।”
लेटर में बताया गया है कि जम्मू-कश्मीर, सीआईडी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ने मुफ्ती को पासपोर्ट नहीं जारी करने की सिफारिश की है। मुफ्ती ने पासपोर्ट जारी करने के लिए पहले ही हाई कोर्ट का रुख कर लिया था क्योंकि उन्होंने पिछले साल ही दस्तावेज के लिए आवेदन किया था।
23 मार्च को हुई सुनवाई के दौरान विदेश मंत्रालय व क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय का प्रतिनिधित्व कर रहे अतिरिक्त सॉलीसीटर जनरल टी एम शम्सी उस वक्त कुछ समय के लिये सुनवाई टालने का अनुरोध किया था जब जम्मू-कश्मीर सीआईडी की तरफ से पेश हुए वकील ने न्यायमूर्ति अली मोहम्मद मागरे को बताया कि उनके पासपोर्ट आवेदन पर सत्यापन रिपोर्ट 18 मार्च को ही जमा की गई है।
उधर, पिछले हफ्ते श्रीनगर में प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों द्वारा पीडीपी अध्यक्ष से पूछताछ भी की गई थी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *