भीषण आग की चपेट में है कैलिफ़ोर्निया के जंगल, 10 लोगों की मौत

कैलिफ़ोर्निया का यह इलाक़ा वाइन बनाने के लिए मशहूर है लेकिन अभी भीषण आग की चपेट में है. यह आग तेज़ी से फैल रही है. इसमें कम से कम दस मौतें हो चुकी हैं और दो लोग गंभीर रूप से जख़्मी हुए हैं.
यहां पर राहत बचाव के कार्य व्यापक पैमाने पर चलाए जा रहे हैं. इस इलाक़े से कई लोग लापता भी हैं.
आग लगने के बाद नापा, सोनोमा और यूबा से क़रीब 20 हज़ार लोगों को हटाया गया है. इन इलाक़ों में अंगूर की खेती होती है.
कैलिफ़ोर्निया के गवर्नर जेरी ब्रॉन ने नापा, सोनोमा और यूबा में आपातकाल की घोषणा की है. आग की लपटों से मौसम और गर्म हो गया है. तेज़ हवा चल रही है. अपने जलते घरों से लोग जान बचाकर भाग रहे हैं.
यूबा के एक निवासी ने इस भयावह आग की आंखोंदेखी बताई, ”पूरे इलाक़े आग की लाल और तेज़ लपटें दिख रही हैं. हवा 65 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चल रही है. आग में इतनी तेज़ हवा चलने का मतलब पता है? मैं बहुत दुखी हूं. मेरे पड़ोस के घर जल गए पर मैंने ख़ुद को बचा लिया.”
कैलिफ़ोर्निया के वन विभाग और अग्नि सुरक्षा विभाग के प्रमुख किम पिमलोट ने कहा कि क़रीब डेढ़ हज़ार इमारतें अब तक नष्ट हो चुकी हैं.
अभी तक यह पता नहीं चला है कि रविवार रात यह आग लगी कैसे. मेंडसिनो काउंटी में इससे एक व्यक्ति मौत हुई है और एक वैली का हज़ारों एकड़ बुरी तरह से झुलस गया है.
वन और अग्नि सुरक्षा विभाग के बटालियन प्रमुख जोनाथन कोक्स ने कहा, ”हमारा पूरा ध्यान लोगों की जान बचाने पर है. यह हमारी पहली प्राथमिकता है. आग पर काबू पाने के लिए सारे उपकरण यहां मौजूद हैं. हम यहां से लोगों को सुरक्षित निकालने की कोशिश कर रहे हैं. हम लोगों से आग्रह कर रहे हैं यहां से जल्दी निकल जाएं. अगर लोग अपने घरों में असुरक्षित महसूस कर रहे हैं तो छोड़कर निकल जाएं. यह आग तेज़ी से आगे बढ़ रही है.”
ख़बर है कि अंगूर के बाग़ों में काम करने वाले दर्जनों लोगों को हेलिकॉप्टरों से निकाला गया है. तेज़ हवा, नमी की कमी और गर्म, सूखे मौसम के कारण आग तेज़ी से फैल रही है.
अमरीका के राष्ट्रीय मौसम सेवा ने सैन फ्रैंसिस्को तक आग फैलने की चेतावनी दी है.
आग के कराण कई सड़कें बंद हो गई हैं जिससे लोगों को निकालने में काफ़ी समस्या हो रही है. प्रशासन का कहना है कि जब तक हवा की गति कम नहीं हो जाती है तब तक आग पर काबू पाना आसान नहीं है.
-BBC