CAIT के भारत बंद का कम रहा असर, कई व्यापारी संगठनों ने बनाई दूरी

नई द‍िल्ली। कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने जीएसटी में खामियों और ई-कॉमर्स से संबंधित मुद्दों के खिलाफ आज भारत बंद बुलाया था ज‍िसका अधिकतर राज्यों में अभी तक कम असर देखने को मिला, यूपी और राजस्थान में इसका असर ब‍िल्कुल नहीं रहा वहीं कई व्यापारी संगठनों ने इससे दूरी बना ली है।

कैट का दावा है कि दिल्ली सहित देश भर के 40, हजार से अधिक व्यापारिक संगठनों के 8 करोड़ से अधिक व्यापारी इस बंद का समर्थन कर रहे हैं। वहीं नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसान भी बंद का समर्थन कर रहे हैं। ऑल इंडिया ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन (AITWA) इसको समर्थन कर रहा है। यह संगठन लगभग एक करोड़ ट्रांसपोर्टर्स का प्रतिनिधित्व करता है।

राजस्थान में बंद का असर नहीं देखने को मिला है। जयपुर में रोज की तरह सभी बाजार खुले रहे। अलवर और जोधपुर में थोड़ा बहुत बंद का असर दिखा। बिहार में बंद का असर देखने को मिला है। कई राजमार्गों पर ट्रक खड़े दिखे। NH-2, NH-30, NH-31, NH-57 समेत अन्य कई स्थानों पर ट्रक खड़े दिखे।

पूरे देश में बंद का मिलाजुला असर देखने को मिला है। यूपी में बंद का असर देखने को नहीं मिला है। ट्रांसपोर्टर्स संगठन के समर्थन के एलान के बावजूद यहां ट्रक व अन्य वाहन चल रहे हैं, जबकि सुबह छह बजे से ही चक्का जाम है। लखनऊ, मेरठ और आगरा सहित लगभग सभी प्रमुख शहरों में दुकानें खुली हुई हैं।

पश्चिम बंगाल में कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने ईंधन की कीमतों में वृद्धि और नए ई-वे बिल और जीएसटी के विरोध में आज देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है।

ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (AIMTC) कोर कमेटी के चेयरमैन बाल मलकीत सिंह ने कहा कि आज का बंद व्यापारियों ने बुलाया है, कुछ संस्थाओं ने इसका समर्थन किया है। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस इसका समर्थन नहीं करती है, ये बंद सिर्फ कागजों में है जमीनी स्तर पर नहीं।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *