प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश Rajbhar ने छोड़ा एनडीए

लखनऊ। प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री और भारतीय सुहेलदेव समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश Rajbhar ने आज प्रदेश की भाजपा गठबंधन सरकार से अपनी विदाई की घोषणा कर दी है।
बस्ती में Rajbhar ने कहा कि वह सपा-बसपा गठबंधन में नहीं शमिल होंगे और 25 जनवरी को प्रदेश की सभी 80 सीटों पर अपनी पार्टी के उम्मीदवारों की घोषणा करेंगे।

उन्होंने पिछड़ों को आरक्षण न देने पर भाजपा से नाराजगी जताई है और कहा कि वह अपने अधिकारों के लिए लड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा इस समय कुंभ, राम मंदिर और हिंदू-मुसलमान मुद्दे पर परेशान है। उन्होंने पिछड़ों के हितों की बात की थी पर उन्हें नहीं सुना गया।

सवर्णों को10 फीसदी आरक्षण को लेकर राजभर ने कहा था कि ये सिर्फ बीजेपी की जुमलेबाजी है।उन्होंने कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट ने आरक्षण की अधिकतम सीमा 50 फीसदी तय कर दी है, तो सरकार उससे ज्यादा आरक्षण कहां से देगी।

एससी-एसटी एक्ट से सवर्ण बीजेपी से नाराज है, इसलिए यह दांव चला गया है। साथ ही बीजेपी सरकार को 100 दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि अगर इस दौरान ओबीसी जातियों को आरक्षण के भीतर आरक्षण की व्यवस्था लागू नहीं की गई तो उनकी पार्टी यूपी की सभी 80 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि यह भाजपा को तय करना है कि हम उनके साथ रहें या महागठबंधन में चले जाएं। महाराष्ट्र में शिवसेना नेता संजय राउत से अपनी मुलाकात के बारे में उन्होंने कहा, मेरी अखिलेश यादव, मायावती, मुलायम सिंह यादव, सोनिया गांधी और राम विलास पासवान जैसे नेताओं से भी लगातार बातचीत होती रहती है। राजनीति में कोई स्थायी दोस्त या दुश्मन नहीं होता है।

राजभर से यह पूछा गया कि वे लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा सरकार को ब्लैकमेल करने की कोशिश तो नहीं कर रहे हैं, उन्होंने कहा कि हम तो अपनी मांग पिछले 21 महीने से रख रहे हैं। वह सौदेबाजी की राजनीति नहीं करते हैं। राजभर ने कहा कि सोमवार को उनकी पार्टी की मासिक बैठक थी, जिसमें कार्यकर्ताओं को सभी 80 सीटों पर चुनाव तैयारी करने के लिए कहा गया है।

अपना दल (एस) के भी असंतुष्ट होने के सवाल पर ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि भाजपा ‘यूज एंड थ्रो’ की राजनीति पर चल रही है। चुनाव आने पर ही उसे सहयोगी दलों की याद आती है। राजभर ने कहा कि वे 17 फरवरी को मुंबई में बड़ा कार्यक्रम करेंगे। जहां यह भी साफ हो जाएगा कि वे चुनाव किसके साथ मिलकर लड़ेंगे।

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *