यूपी के पंचायत चुनाव की काउंटिंग में टूटे कोरोना नियम

लखनऊ। कोरोना संक्रमण का कहर झेल रहे उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के वोटों की गिनती जारी है। सुप्रीम कोर्ट ने मतगणना केंद्रों पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के निर्देश दिए थे लेकिन काउंटिंग में इसको ताक पर रख दिया गया।
लखनऊ, रायबरेली और हरदोई से लेकर हाथरस तक हर जगह से डरावनी तस्वीरें देखने को मिली हैं। काउंटिंग सेंटर्स पर कोविड प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ती दिखीं। इटावा में मतदान कर्मी के कोरोना पॉजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया। इन सबके बीच सुबह 8 बजे वोटों की गिनती का काम शुरू हुआ। रायबरेली, अंबेडकरनगर और बलरामपुर जिले में प्रधान पद का पहला परिणाम घोषित हो चुका है। रायबरेली के पचखरा में प्रधान पद प्रत्याशी सीता देवी ने 702 मत पाकर जीत हासिल की है। बलरामपुर के रेहरा बाजार ब्लॉक के फिरोजपुर में प्रधान पद की प्रत्याशी तबस्सुम बानो 592 वोट पाकर चुनाव जीत गई हैं। अंबेडकरनगर के जलालपुर ब्लॉक के इंदलपुर ग्राम पंचायत में सुरेश कुमार चौहान 13 वोटों से विजयी घोषित किए गए हैं। अभी 50-50 की गड्डी बनाकर डीडीसी, बीडीसी, प्रधान और ग्राम पंचायत सदस्य के मतपत्रों को अलग-अलग किया जा रहा है। प्रदेश के 75 जिलों में जिला पंचायत की 3051 सीटों पर नतीजे आने हैं। बैलट बॉक्स में अलग-अलग रंग के मतपत्र हैं। प्रधान चुनाव के लिए हरे रंग का बैलट पेपर है। ग्राम पंचायत सदस्यों का बैलट पेपर सफेद है। वहीं क्षेत्र पंचायत सदस्य का मतपत्र नीले रंग का है। जिला पंचायत का मतपत्र गुलाबी रंग का है। वॉर्डवार जिला पंचायत सदस्य चुनाव के नतीजे आएंगे। लखनऊ की मोहनलालगंज लोकसभा सीट से दो बार सांसद रह चुकीं रीना चौधरी भी इस बार पंचायत चुनाव लड़ रही हैं। जिला पंचायत सदस्य चुनाव में वह वॉर्ड नंबर-15 सरोजनीनगर से मैदान में हैं। माना जा रहा है कि अगर वह चुनाव जीतती हैं तो जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए बीजेपी की मजबूत दावेदार रहेंगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *