मध्य एशिया के तीन देशों में कई घंटे रहा ब्लैक आउट, लाखों लोग प्रभावित

मध्य एशिया के तीन देशों के कुछ शहरों में मंगलवार को घंटों तक पावर ब्लैक आउट रहा. लाखों लोगों को घंटो बिना बिजली के रहना पड़ा. किर्गिस्तान, उज़्बेकिस्तान और क़ज़ाख़स्तान के कई इलाक़ों में घंटों तक बिजली की आपूर्ति बाधित रही.
दरअसल, एक साझा पावर लाइन के काट दिये जाने के कारण लोगों को इस समस्या का सामना करना पड़ा. घंटों तक पावर नहीं होने के कारण इन देशों में लंबे ट्रैफ़िक जाम लग गए, हवाई सेवाएं बाधित हुईं और सार्वजनिक परिवहन सेवा पर भी व्यापक असर पड़ा.
यह ब्लैक आउट देर सुबह हुआ था और इन इलाक़ों में तो देर शाम तक जाकर ही बिजली आपूर्ति बहाल हो सकी.
दरअसल, इन तीनों देशों के पावर ग्रिड आपस में जुड़े हुए हैं और सोवियत निर्मित पावर लाइन के माध्यम से रूस के नेटवर्क से जुड़े हुए हैं. यह क़ज़ाख़स्तान के माध्यम से ही संचालित होती है.
अगर पावर सप्लाई में अप्रत्याशित तौर पर कमी हो जाए तो यह उन्हें रूस के ग्रिड से पावर लेने की अनुमति देता है. ग्रिड ऑपरेटर केईजीओसी ने बताया कि यह आपातकालीन असंतुलन की स्थिति थी और पावर काट दिया गया था.
क़ज़ाख़स्तान के सबसे बड़े शहर अल्माटी, किर्गिस्तान और उज़्बेकिस्तान के कई शहरों में बिजली गुल होने से लोगों को काफ़ी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ा.
ख़बरों के मुताबिक़ ब्लैकआउट से इन तीनों देशों के आसपास के कई प्रांत भी प्रभावित हुए.
लोगों को पीने के पानी, हीटर, पेट्रोल पंप और इंटरनेट सेवा से जुड़ी कई रोज़मर्रा की समस्याओं से दो-चार होना पड़ा. अस्पतालों का काम जेनरेटर के भरोसे चलाया गया लेकिन कई जगहों पर ट्रेनें सुरंगों में फंसी रहीं.
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *