बंगाल में भाजपा विजय की ओर अग्रसर : डॉ. कृष्ण कुमार झा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के रणनीतिक विश्लेषक एवं युवा भाजपा नेता डॉ. कृष्ण कुमार झा ने पश्चिम बंगाल बंगाल के चुनावी दौरे के बाद दिल्ली लौट कर बंगाल और आसाम में भाजपा की सरकार बनने की आशा जाहिर करते हुए अपने विचार साझा किये।

उन्होंने कहा कि अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को ईश्वर शरण में आकर दुर्गा पाठ और मंत्र भी सीखने पड़ रहे हैं। कारण है हाथ से निकलती सत्ता जो पिछले 10 वर्षों का कुशासन है उसको उखाड़ फेंकने के लिए बंगाल जी जनता व भाजपा और उसके मातृ संगठन आर एस एस के सभी प्रक्लपों ने पूरा जोर हिंदुत्व और अमार शोनार बांग्ला के नारे में लगा दिया है जो भाजपा को बंगाल में सत्ता का रास्ता खोलने की चाबी बनता जा जा रहा है। होना भी चाहिए क्योंकि राष्ट्रवाद के सिद्धांत को लेकर देश को मजबूत बनाने वाली भाजपा ने बांग्लादेश में ममता राज में घुसपैठ करके आये विदेशी मुस्लिमों को देश से बाहर करने का जो मन बनाया है वह बंगाल की असल जनता को भा गया है। अब बंगाल में भी हिंदुत्व और राष्ट्रवाद की लहर भाजपा ने पैदा कर दी है।

डॉ. कृष्ण कुमार झा का कहना है कि हिंदुत्व और राष्ट्रवाद अब बंगाल और असम दोनों राज्यों में लोगों को भा रहा है। भाजपा स्वामी विवेकानंद से लेकर महर्षि अरविंद, रविंद्र नाथ टैगोर, सुभाष चंद्र बोस आदि से जुड़ी तिथियों को जिस प्रभावी तरीके से प्रदेश स्तर पर मना रही है उसके असर से कोई इन्कार नहीं कर सकता देश को एकजुट होकर मजबूत बनाने में यह जयंती मानने का फैसला भाजपा को मजबूत बनाएगा और जनता साथ देगी।

मोदी सरकार ने जैसे देश का भरोसा जीता है वैसे ही उसने सोनार बांग्ला के नारे को आगे बढ़ाते हुए पहली बार बंगाल विजय के लिए भाजपा ने जीत का जो ब्लू प्रिंट तैयार ‌किया है वह हिंदुत्व और राष्ट्रवाद और राज्य के विकास पर आधारित है। दूसरे शब्दों में कहे तो भाजपा बंगाल के लोगों में राष्ट्रबोध व विकास की भावना को‌ जगाकर वोटों को भाजपा के पक्ष में करना है जो जरुरी भी है। आज देश और बंगाल की जनता को गर्व है कि देश के गृहमंत्री अमित शाह लगातार अपने बंगाल दौरे के दौरान एक‌ ओर मंदिरों के दर्शन कर हिंदुत्व कार्ड के सहारे भाजपा को मजबूत कर रहे है तो दूसरी ओर बंगाल से आने वाले महापुरुषों को श्रद्धांजलि देकर लोगों‌ में राष्ट्रबोध की भावना जागने का काम भी साथ – साथ कर रहे है।

डॉ कृष्ण कुमार झा ने कहा कि हम राजनैतिक विश्लेषक के तौर पर भी मानने लगे हैं कि आज बंगाल में भाजपा जिस तरह से मुखर होकर प्रचार में लगी है और तृणमूल कांग्रेस के दिग्गज नेता और अभिनेता व खिलाडी जिस तरह से भाजपा का दामन थाम रहे हैं उसको देखकर आज बंगाल की जनता को भी लगने लगा है कि भारतीय जनता पार्टी इस समय ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ जिस मजबूत स्थिति में दिख रही है उसके हम भाजपा कार्यकर्ताओं व संघ और उसके अनुषांगिक संगठनों की‌ सालों से‌ की गई मेहनत है। संघ और उससे जुड़े संगठनों ने सीधे तौर पर राजनीति से दूर रहते हुए लगातार अपने कार्यक्रमों के जरिए एक ऐसी जमीन तैयार की है जिस‌के‌ सहारे भाजपा ने पहले लोकसभा ‌चुनाव में 18 सीटों पर जीत हासिल की वहीं अब विधानसभा ‌चुनाव में लोगों को टीएमसी के विकल्प के रूप में नजर आने लगी है।

भाजपा नेता एवं राजनैतिक रणनीतिकार डॉ कृष्ण कुमार झा ने कहा कि केंद्र की स्वच्छ भारत योजना, उज्ज्वला योजना के जरिए बंगाल की करोड़ों महिलाओं का सशक्तिकरण किया गया है। कोरोना काल में केंद्र सरकार की ओर से 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन दिया गया, लेकिन बंगाल की सरकार ने यहां आम लोगों को फायदा नहीं होने दिया। अब बंगाल की जनता ममता दीदी के कुशासन को उखाड़ कर आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक विकास,राष्ट्रवाद और सबका साथ सबका विकास के विजन को लेकर राज्य में भाजपा की सरकार बनाने जा रही है।

– अशोक कुमार निर्भय,
वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभ लेखक,समीक्षक

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *