बीजेपी ने अशोक चव्हाण के बयान पर कांग्रेस को घेरा, ओवैसी पर भी किया कटाक्ष

नई दिल्‍ली। बीजेपी ने कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण के बयान पर पलटवार करते हुए बड़ा निशाना साधा है। कांग्रेस को मुस्लिम लीग कांग्रेस नाम देते हुए बीजेपी ने कहा कि चव्हाण के बयान से कांग्रेस की पोल खुल गई है और उन्होंने हिंदुओं का अपमान किया है।
AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी पर करारा कटाक्ष करते हुए बीजेपी ने कहा कि वह जिन्ना बनने की राह पर चल रहे हैं।
कांग्रेस ने किया हिंदुओं का अपमान-पात्रा
बीजेपी नेता संबित पात्रा ने चव्हाण के बयान का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस ने हिंदुओं का अपमान किया है। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन की आड़ में हिंदुओं को गाली दी जाती है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के एक नेता कहते हैं कि वह केवल मुस्लिमों के लिए किसी सरकार में शामिल हैं तो आखिर हिंदुओं, सिखों, पारसियों ने क्या गुनाह किया है।
चव्हाण ने यह कहा था
कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा, ‘महाराष्ट्र में हमारी सरकार है। महाराष्‍ट्र में बीजेपी को सत्‍ता में आने से रोकने के लिए हम इस सरकार में शामिल हुए हैं। कई मुस्लिम भाइयों ने कहा था कि हमारी सबसे बड़ी दुश्‍मन बीजेपी है, बीजेपी को अगर रोकना है तो कांग्रेस को इस सरकार में शामिल होना चाहिए इसीलिए कांग्रेस आज सरकार में शामिल है। जब तक कांग्रेस सरकार में शामिल है तब तक हम महाराष्‍ट्र में सीएए लागू नहीं होने देंगे।’
ओवैसी पर भी साधा निशाना
पात्रा ने AIMIM चीफ ओवैसी पर भी बोला हमला। उन्होंने कहा, ‘कल औवेसी ने कहा कि मुसलमानों ने 800 वर्ष तक इस मुल्क में हुक्मरानी और जांबाजी की है। मेरे आबा और जात ने इस मुल्क को कुतुबमीनार, चार मिनार, जामा मस्जिद दिया है। लाल किला भी मेरे आबा और दादा ने बनाया, तेरे बाप ने क्या बनाया है?’
उन्होंने कहा, ‘हमारे दादा-परदादा ने इस देश को सहिष्णु, विराट, क्षमतावान, गरीमावान बनाया और आप लोग ऐसी भाषा का उपयोग करते हैं।’
शाहीन बाग का जिक्र से घेरा
पात्रा ने शाहीन बाग में CAA के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन पर कहा कि शाहीन बाग में छोटी बच्चियों को जेहन में जहर किसने भरा है। उन्होंने कहा कि पीएम को जान से मार देना है, यह उन्हें किसने सिखाया। उन्होंने कहा, ‘देश में हिंदुओं के खिलाफ जहर बोया जा रहा है।’ उन्होंने कहा कि यह काफी दर्दनाक है। देश में लोकतंत्र है यहां किसी भी विषय पर प्रदर्शन किया जा सकता है लेकिन ऐसे किसी के जेहन में जहर बोना कहां तक उचित है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *