वायरल ऑडियो क्लिप को लेकर बीजेपी ने की सीबीआई जांच की मांग

नई दिल्‍ली। बीजेपी ने राजस्थान में वायरल ऑडियो क्लिप को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है और मामले की सीबीआई जांच की मांग की है.
बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या फ़ोन की टैपिंग की गई है और अगर ऐसा हुआ है तो क्या इसके लिए सभी नियमों का पालन किया गया.
संबित पात्रा ने कहा, “क्या राजस्थान में इमरजेंसी के हालात हैं? क्या सभी राजनीतिक पार्टियों को ऐसे ही निशाना बनाया जा रहा है?”
पात्रा ने राज्य सरकार से मांग की है कि इस बात पर सफाई दें क्यों कि वह फोन टैपिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं. पात्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री वायरल हुए ऑडियो को विश्वसनीय बता रहे हैं जबकि एफ़आईआर में कथित ऑडियो क्लिप लिखा गया है.
राजस्थान सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी की शिकायत पर शुक्रवार को स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप (एसओजी) ने दो एफ़आईआर दर्ज की हैं जिनमें वायरल हुए ऑडियो का ज़िक्र है.
जयपुर में एसओजी के आईजी अशोक कुमार राठौड़ ने प्रेस को बताया था कि “तीन लोगों के ख़िलाफ़ आईपीसी के सेक्शन 124-A और 120-B के तहत मामला दर्ज किया गया है. एफ़आईआर में किसी व्यक्ति को नामज़द नहीं किया गया है, और ऑडियो के विवरण में इन्हें व्यक्ति ‘ए’ और व्यक्ति ‘बी’ बताया गया है.”
इससे पहले रणदीप सिंह सुरजेवाला ने मीडिया के ज़रिए सामने आए कुछ ऑडियो टेप्स का हवाला देते हुए मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर आरोप लगाया था कि वे कुछ बाग़ी विधायकों की मदद से राजस्थान की सरकार गिराने का प्रयास कर रहे हैं.
शुक्रवार सुबह हुई प्रेस कॉन्फ़्रेंस में सुरजेवाला ने कहा, “मीडिया के ज़रिये कुछ ऑडियो टेप सामने आये हैं. कथित तौर पर इनमें बाग़ी कांग्रेस नेताओं और एक वरिष्ठ बीजेपी नेता के बीच बातचीत सुनाई देती है. इससे साफ़ होता है कि पैसे का आदान-प्रदान हो रहा है.”
सुरजेवाला ने वायरल ऑडियो टेप के हवाले से बीजेपी नेता व केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, बीजेपी नेता संजय जैन और कांग्रेस विधायक भंवर लाल शर्मा के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज कर उन्हें गिरफ़्तार करने की माँग की थी.
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *