भाजपा का ऐलान, सरकार बनी तो मेट्रो मैन ई श्रीधरन होंगे केरल में मुख्यमंत्री

कोच्चि। केरल राज्य में हो रहे विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर सस्पेंस खत्म कर दिया है। पार्टी की ओर से ऐलान किया गया है कि राज्य में बीजेपी की सरकार बनी तो मेट्रो मैन ई श्रीधरन केरल के मुख्यमंत्री होंगे। हालांकि श्रीधरन के बीजेपी में शामिल होने के बाद से उनके ही सीएम उम्मीदवार बनाए जाने के कयास लगाए जा रहे थे, जिस पर अब विराम लग गया है।
मेट्रो मैन के नाम से मशहूर ई श्रीधरन ने बीते महीने ही भारतीय जनता पार्टी जॉइन की थी। केरल के बीजेपी प्रमुख के सुरेंद्रन ने गुरुवार को घोषणा की कि ई श्रीधरन केरल में बीजेपी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार होंगे।
राज्यपाल बनने को नहीं हुए तैयार
आपको बता दें कि पार्टी में शामिल होने के बाद मेट्रो मैन श्रीधरन (88) ने साफ किया था कि राज्यपाल पद संभालने में उनकी कोई दिलचस्पी नहीं है। उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह संवैधानिक पद है और कोई शक्ति नहीं है और वह ऐसे पद पर रहकर राज्य के लिए कोई सकारात्मक योगदान नहीं दे पाएंगे।
मुख्यमंत्री पद के लिए पहले ही की थी दावेदारी
केरल के पोन्नाली में रह रहे श्रीधरन ने कहा था कि वह राज्य के मुख्यमंत्री बनने को तैयार हैं। उन्होंने यह भी संकेत दिया था कि वह मुख्यमंत्री बने तो राज्य में लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाएंगे।
श्रीधरन को ये सम्मान मिल चुके हैं
बता दें कि ई श्रीधरन दिल्ली मेट्रो समेत पहले फ्रैट कॉरिडोर को समय से पहले दौड़ाने के मामले में ख्याति बटोर चुके हैं। ई श्रीधरन को 2001 में पद्म श्री और 2008 में पद्म विभूषण अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है। फ्रांस सरकार ने ई श्रीधरन को 2005 में अपने सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित कर चुकी है। यहीं नहीं अमेरिका की विश्व प्रसिद्ध पत्रिका टाइम मैग्जीन ने इन्हें एशिया हीरो का टाइटल दिया था।
शुरुआती पढ़ाई केरल से की
ई श्रीधरन का जन्म 12 जून 1932 को केरल के पलक्कड़ में हुआ। उनके परिवार का संबंध पलक्कड़ के करुकपुथुर से है। ई श्रीधरन की प्रारंभिक शिक्षा पलक्कड़ के बेसल इवैंजेलिकल मिशन हॉयर सेकेंडरी स्कूल से हुई। इसके बाद इन्होंने पालघाट के विक्टोरिया कॉलेज से पढ़ाई की है। ई श्रीधरन ने सिविल इंजीनियरिंग की डिग्री आंध्र प्रदेश के काकीनाडा स्थित सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज से प्राप्त की।
कई जगह दी अपनी सेवाएं
दिल्ली मेट्रो, कोच्चि मेट्रो, लखनऊ मेट्रो को ई श्रीधरन ने अपनी सेवाएं दी हैं। लखनऊ मेट्रो रेल के वे मुख्य सलाहकार थे। साल 2019 में उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था। श्रीधरन को फरवरी, 2024 तक के लिए लखनऊ मेट्रो का मुख्य सलाहकार नियुक्त किया गया था। उन्होंने जयपुर मेट्रो को भी अपनी बहुमूल्य सलाह दी और देश में बनने वाली दूसरी मेट्रो रेल परियोजनाओं के साथ भी वे जुड़े हुए हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *