भाजपा ने जामयांग सेरिंग नामग्याल को लद्दाख का अध्‍यक्ष बनाया

नई दिल्‍ली। सांसद जामयांग सेरिंग नामग्याल को लद्दाख भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया है। जामयांग सेरिंग नामग्याल ने कहा कि उन्हें अभी-अभी इस बात की जानकारी हुई है। इस दौरान वह एक बैठक में व्यस्त थे। ये वही जामयांग सेरिंग हैं, जिन्होंने पिछले साल संसद में लद्दाख को जम्मू-कश्मीर से अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने के फैसले का धन्यवाद देते हुए दमदार भाषण दिया था।
पहली बार चुनकर संसद पहुंचे जामयांग सेरिंग नामग्याल ने पिछले साल (2019) आर्टिकल 370 और जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन विधेयक पर चर्चा के दौरान कुछ इस अंदाज में अपनी बात रखी थी कि गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक उनके मुरीद हो गए थे।
छात्र राजनीति से लोकसभा तक सफर
जामयांग सेरिंग लद्दाख से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं। 34 साल के युवा सांसद भौगोलिक आधार पर भारत के सबसे बड़े लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। जामयांग सेरिंग लद्दाख के उन नेताओं में से एक हैं, जो लंबे वक्त से लद्दाख को केंद्र शासित राज्य बनाने की लड़ाई लड़ते रहे हैं। छात्र राजनीति से देश के सबसे बड़े लोकतांत्रिक सदन में पहुंचने वाले नामग्याल लद्दाख का प्रतिनिधित्व करते हैं। 4 अगस्त 1985 को जन्मे जामयांग सेरिंग पूर्व में सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ बुद्धिस्ट स्टडीज के स्टूडेंट रहे हैं और उन्होंने जम्मू विश्वविद्यालय से ग्रैजुएशन किया है।
…और रेकॉर्ड मतों से दर्ज की जीत
सक्रिय राजनीति में आने से पहले जामयांग सेरिंग ऑल लद्दाख स्टूडेंट असोसिएशन के अलग-अलग पदों पर रहे हैं और उन्होंने कुछ वक्त तक लद्दाख के सांसद थुपस्तान छेवांग के निजी सचिव के रूप में भी काम किया है। साल 2015 में जामयांग सेरिंग ने लद्दाख स्वायत्त पर्वतीय विकास परिषद का चुनाव लड़ा और रेकॉर्ड मतों से विजयी हुए थे। इस चुनाव के कुछ समय बाद ही जामयांग हिल डिवेलपमेंट काउंसिल के आठवें चीफ एग्जिक्युटिव काउंसिल बने थे। इसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने जामयांग सेरिंग पर भरोसा जताते हुए उन्हें लद्दाख सीट का प्रत्याशी बनाया और इसी सीट से सेरिंग विजयी भी हुए।
मोदी ने शेयर किया जामयांग का वीडियो
संसद में जामयांग सेरिंग का भाषण खत्म होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाषण का वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया था, ‘मेरे युवा दोस्त, जामयांग सेरिंग नामग्याल जिन्होंने जम्मू-कश्मीर पर महत्वपूर्ण बिल पर चर्चा के दौरान लोकसभा में बेहतरीन भाषण दिया। उन्होंने लद्दाख के हमारे भाइयों और बहनों की महत्वाकांक्षा को सुसंगत तरीके से पेश किया। उनके भाषण को सुना जाना चाहिए।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *