बिहार विधानसभा चुनाव: महागठबंधन में सीट शेयरिंग का ऐलान

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव के लिए महागठबंधन में सीट शेयरिंग का ऐलान हो गया है। शनिवार को पटना के मौर्या होटल में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी घोषणा की गई। बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से 144 पर राष्ट्रीय जनता दल, 70 पर कांग्रेस और 29 सीटों पर लेफ्ट चुनाव लड़ेगी।
कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन अविनाश पांडे ने इस दौरान कहा कि 2015 के चुनाव के दौरान बिहार की जनता ने महागठबंधन को भारी बहुमत दिया था। हालांकि कुछ ही समय बाद नीतीश कुमार ने जनता की चुनी हुई सरकार को त्यागकर किसी और से हाथ मिला लिया। बिहार की जनता उन्हें इस बार माफ नहीं करने वाली है। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार को कृषि कानूनों को लेकर भी घेरा और इन्हें तुगलकी करार दिया।
अविनाश पांडे ने तेजस्वी यादव की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि 2015 के चुनाव में बिहार की युवा जनता ने तेजस्वी यादव को डिप्टी सीएम के रूप में काम करते हुए देखा। उन्होंने बहुत अच्छा काम किया। बिहार देश का सबसे युवा राज्यों में एक है। ऐसे में यहां कि जनता के लिए एक युवा नेतृत्व की जरूरत है।
राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव, जगदानंद सिंह और मनोज कुमार झा इस दौरान मौजूद थे। कांग्रेस की तरफ से अविनाश पांडे, सीपीआई एमएल से दीपंकर भट्टाचार्य और विकासशील इंसान पार्टी के मुकेश सहनी सहित तमाम नेता इस मौके पर उपस्थित थे। पटना के मौर्या होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई थी।
एनडीए में बातचीत जारी
वहीं, सीटों का फॉर्मूला तय करने के लिए बुधवार की रात पटना पहुंचे बिहार भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव और चुनाव प्रभारी देवेंद्र फणडवीस शुक्रवार की शाम दिल्ली लौट गए। इस दौरान उनकी बातचीत जदयू नेतृत्व से नहीं हुई। पटना में वे दोनों अपने ही दल के नेताओं से बातचीत करते रहे। कोई फॉर्मूला नहीं निकलता देख दोनों दिल्ली लौट गए। वैसे भाजपा और जदयू दोनों तरफ से ये दावे किया जा रहे हैं कि एनडीए एकजुट है और सीट बंटवारे के फॉर्मूले को जल्द अंतिम रूप दे दिया जाएगा।
लोजपा आज कर सकती है बड़ा ऐलान
विधानसभा का चुनाव एनडीए के तहत लोजपा लड़ेगी या 143 सीटों पर अपना उम्मीदवार उतारेगी, इसका ऐलान शनिवार पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान करेंगे। उन्होंने दिल्ली में शनिवार को पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक बुलाई है। वहीं दिल्ली में जमे लोजपा प्रदेश पदाधिकारियों और जिला अध्यक्षों को अपने-अपने क्षेत्र में जाने का निर्देश दे दिया गया है। गौरतलब हो कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ गुरुवार को चिराग पासवान की हुई मुलाकात के बाद भी सीटों के फार्मूले पर कोई नतीजा अब-तक नहीं निकल पाया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *