MP के किसानों को बड़ा तोहफा, किसान कल्याण योजना की पहली किश्‍त जारी

भोपाल। मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्‍य के किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। किसान सम्मान निधि की तरह शिवराज सिंह चौहान ने उपचुनाव से पहले मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत MP के किसानों को हर साल 4 हजार रुपये मिलने थे। केंद्र की 6 और राज्य की 4 मिलाकर किसानों को कुल 10 हजार रुपये मिलने थे।
उपचुनाव खत्म होने के बाद राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना की पहली किस्त आज जारी कर दी है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने एक क्लिक पर प्रदेश के 5 लाख किसानों के खाते में 100 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए हैं। सरकार का कहना है कि इससे प्रदेश के 80 लाख किसानों को फायदा होगा। जल्द ही बचे हुए किसानों के खाते में भी राशि ट्रांसफर की जाएगी। इसके लिए सीहोर जिले के नसरूल्लागंज में कार्यक्रम आयोजित किया गया था। सभी किसानों के खाते में आज 2-2 हजार रुपये की राशि जाएगी।
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर कहा है कि फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री सम्मान निधि, जीरो पर्सेंट ब्याज पर ऋण योजना समेत अनेक योजनाओं का पैसा कमलनाथ सरकार ने किसानों को नहीं दिया है। मैंने कोविड-19 की चुनौतियों के बीच भी किसानों के कल्याण के लिए 23, 600 करोड़ से अधिक की राशि जारी की है। उन्होंने कि कर्ज माफी के नाम पर किसानों को धोखा देने वाली कांग्रेस आज किसानों के नाम पर राजनीति कर रही है। किसानों के हित में बने कानून पर वे किसानों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। इस कानून में किसान को उपज मंडी के अलावा कहीं भी बेचने की छूट है।
शिवराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों के साथ खड़े हैं। किसान हित में बने नए कानून के अनुसार किसान बोनी से पहले व्यापारी के साथ अपनी उपज का कांट्रैक्ट कर सकेगा। फसल खराब होने की चिंता से किसान मुक्त होगा। उन्होंने कहा कि किसानों को खसरे की नकल को प्राप्त करने में ही महीनों लग जाते थे। हमने तय कर दिया है कि अब समस्त भू-अभिलेख ऑनलाइन मिलेंगे ताकि किसानों का समय बर्बाद न हो।
80 लाख किसानों को फायदा
एमपी सीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत 100 करोड़ रुपये आज प्रदेश के 5 लाख किसानों के खाते में डाले जा रहे हैं। यह जारी रहेगा और इससे लगभग 80 लाख किसान लाभान्वित होंगे। किसानों के कल्याण के लिए जो कदम उठाने चाहिए, वो हमारी सरकार लगातार उठा रही है। हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *