बड़ा खुलासा: धर्मांतरण के सीक्रेट मिशन में भी जुटा था दिल्‍ली से पकड़ा पाक आतंकी

नई दिल्‍ली। स्पेशल सेल की रिमांड में चल रहे संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। सेल सूत्रों का दावा है कि अशरफ ने मौलाना पीर का वेश धारण करने के बाद धर्मांतरण के सीक्रेट मिशन में भी जुटा था। पिछले दिनों यूपी एटीएस के शिकंजे में फंसे धर्मांतरण रैकेट से भी अशरफ के तार जुड़े हुए हैं। स्पेशल सेल सूत्रों के मुताबिक अशरफ से हुई पूछताछ पर ही सेल की एक टीम ने वेस्टर्न यूपी के कई जिलों में रेड की लेकिन समय से पहले ही संदिग्ध वहां से गायब हो गए।
यूपी, बिहार और पश्चिम बंगाल में छापेमारी
माना जा रहा है कि लोकल सपोर्ट से भागने में उन्हें मदद मिली है। उनकी पहचान और धरपकड़ के लिए अभी भी टीमें यूपी समेत बिहार, वेस्ट बंगाल तक नेटवर्क को खंगाल रही हैं। सूत्रों के मुताबिक जब अशरफ, बांग्लादेश के रास्ते भारत में दाखिल हुआ था तब आईएसआई के अधिकारी नासिर ने उसे कोलकाता में एक शख्स के घर ठहराया था, वह शख्स भी आईएसआई से जुड़ा है। उसकी तलाश के लिए स्पेशल सेल की टीम कोलकाता गई है। इसके साथ ही पुलिस की एक टीम बिहार के वैशाली जिले में भी जाएगी।
पुलिस की चुस्ती देख अंडरग्राउंड हुए आतंकी के कई साथी
शुक्रवार को एनबीटी ने खुलासा किया था कि अशरफ के एक बेहद करीबी राजदार को स्पेशल सेल ने गुरुवार की शाम को पूर्वी दिल्ली से पकड़ा है। उससे पूछताछ चल रही है। सूत्रों का कहना है कि अशरफ के पुरानी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली के इलाकों में कई साथी हैं, जो अशरफ की गिरफ्तारी की मीडिया में आई खबरों के बाद अंडरग्राउंड हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक, अभी तक अशरफ ने पूछताछ में बताया है कि वह कई लड़कों का ब्रेन वॉश करके अलग अलग रास्तों से पाकिस्तान ट्रेनिंग के लिए भेज चुका है।
पाक खुफिया एजेंसी को फोटो और वीडियो भी दिए
वह खुद भी वहां पर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के अधिकारियों से मिलने गया था। उसने वहां पर जम्मू कश्मीर, दिल्ली सहित कई राज्यों के शहरों की जानकारी और अन्य इनपुट दिए थे। वह अपने साथ कुछ महत्वपूर्ण जगहों की फोटो, वीडियो व कुछ नक्शे भी लेकर गया था। यह किस तरह के दस्तावेज और फोटो-वीडियो थे, इसे लेकर स्पेशल सेल उससे पूछताछ कर रही हैं। अशरफ पाकिस्तान की कट्टरपंथी संस्था का सक्रिय सदस्य है। इस संस्था के कार्यक्रमों में वह तकरीरें भी देने देश-विदेश जाता था।
दूसरी तरफ मोहम्मद अशरफ के हैंडलर के सितंबर महीने में यूपी, दिल्ली व राजस्थान से पकड़े गए आतंकियों से भी संबंध थे। अशरफ व हैंडलर की वॉट्सऐप चैटिंग से ये खुलासा हुआ है। इसके साथ ही वह संस्था के कार्यक्रमों में आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में जा चुका है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *