चंडीगढ़ में AAP को तगड़ा झटका, बीजेपी मेयर बनाने में सफल

चंडीगढ़ में नगर निकाय चुनाव में आम आदमी पार्टी को झटका लगा है। सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी भारतीय जनता पार्टी ने यहां अपना मेयर बना लिया है। बीजेपी की सरबजीत कौर चंडीगढ़ की मेयर बन गई हैं। आम आदमी पार्टी का एक वोट बैलट पेपर फटा होने की वजह से रद्द हो गया। चुनाव का नतीजा आने के बाद आम आदमी पार्टी के सभी पार्षद धरने पर बैठ गए। नगर निगम के अंदर धक्का-मुक्की के बाद मार्शल को हालात संभालने के लिए बुलाया गया।
यूं तो चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में आप के सबसे अधिक पार्षदों ने जीत दर्ज की है लेकिन बीजेपी के दांव से मुकाबला दिलचस्प हो गया था। चुनाव में बीजेपी और आप के बीच ही टक्कर थी, कांग्रेस अपना उम्मीदवार नहीं उतारा था। ऐसे में सीधा मुकाबला आम आदमी पार्टी (आप) और बीजेपी के बीच था। चुनाव के दौरान टूट के डर से आम आदमी पार्टी ने पार्षदों को दिल्ली में शिफ्ट कर दिया था।
सीक्रेट बैलट के जरिए वोटिंग
चंडीगढ़ के नए मेयर का चुनाव 8 जनवरी को सुबह 11 बजे चंडीगढ़ नगर निगम के ऑफिस में हुए। मेयर के साथ ही चंडीगढ़ के सीनियर डेप्युटी मेयर और डेप्युटी मेयर भी चुने गए। चंडीगढ़ नगर निगम के मेयर के लिए सीक्रेट बैलेट के जरिए वोटिंग हुई।
काउंटिंग के दौरान पता चला कि आम आदमी पार्टी का एक बैलट पेपर फटा था। जिससे वह वोट खारिज कर दिया गया। आपको बता दें कि मेयर के लिए सिर्फ महिला पार्षद ही आवेदन कर सकती थीं क्योंकि पहले और चौथे साल के लिए यह पोस्ट महिला पार्षद के लिए रिजर्व रखी गई है।
24 दिसंबर को हुए थे चुनाव
चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव 24 दिसंबर को हुए थे जिसमें कोई भी दल बहुमत का आंकड़ा (19) पार नहीं कर पाया था। चुनाव में डेब्यू करने वाली AAP के 14 पार्षदों ने जीत दर्ज की थी, जबकि बीजेपी के 12, कांग्रेस के 8 पार्षद और अकाली दल के 1 पार्षद ने जीत दर्ज की थी।
वार्ड नंबर 10 की पार्षद हरप्रीत कौर बाबला ने अपने पति देविंदर सिंह बाबला के साथ कांग्रेस छोड़कर बीजेपी जॉइन कर ली थी। इसके बाद बीजेपी के पार्षदों की संख्या बढ़कर 13 हो गई है जबकि कांग्रेस की घटकर 7 रह गई।
चंडीगढ़ सांसद का भी एक वोट
मेयर चुनाव में चंडीगढ़ सांसद का भी एक वोट मान्य होता है जिसके बाद बीजेपी के पास कुल 14 वोट हो गए थे। फिल्म अभिनेत्री किरण खेर चंडीगढ़ का संसद में प्रतिनिधित्व करती हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *