चार दिवसीय टेस्‍ट मैच के खिलाफ कोहली और शास्‍त्री के साथ है BCCI

नई दिल्‍ली। ICC की क्रिकेट समिति 4 दिन के टेस्ट मैच को लेकर चर्चा करेगी लेकिन इस बात की पूरी संभावना है कि BCCI इस पर राजी नहीं होगा।
भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने इस मीटिंग में कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के साथ जाने का फैसला किया है।
ये दोनों पहले ही चार दिन के टेस्ट मैच वाले आइडिया का विरोध कर चुके हैं। कोच और कप्तान साफ तौर पर कह चुके हैं कि वे टेस्ट क्रिकेट के पारंपरिक परिवेश को बनाए रखने के पक्ष में हैं और नहीं चाहते कि इसे पांच दिन से घटाकर चार दिन का किया जाए। दोनों ने अंदेशा जताया था कि अगर इस फॉर्मेट से साथ छेड़छाड़ की गई तो यह अपनी चमक खो बैठेगा।
BCCI के एक अधिकारी ने कहा कि BCCI 12 जनवरी को मुंबई में होने वाले बोर्ड के अवॉर्ड समारोह के दौरान क्रिकेट आस्ट्रेलिया (CA) और इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) से इस पर चर्चा जरूर करेगा, लेकिन बोर्ड साफ तौर पर कप्तान और कोच के समर्थन में है।
अधिकारी ने कहा, ‘देखिए यह सही है कि आप इस मुद्दे पर सीए, ईसीबी और क्रिकेट साउथ अफ्रीका के साथ बात करें, और हम ऐसा ही करेंगे लेकिन इस समय जैसी चीजें दिख रही हैं, हम कप्तान और कोच के साथ खड़े हुए हैं और टेस्ट मैच को पांच दिन से चार दिन का करने में हमें कोई तुक नजर नहीं आता।’
उन्होंने कहा, ‘यह सिर्फ हमारे कप्तान और कोच इसका विरोध नहीं कर रहे हैं। आप इंग्लैंड के कप्तान जो रूट, साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस के बयान भी इस मसले पर सुन चुके होंगे। यह कम रैंक वाली टीमों के लिए एक विकल्प हो सकता है, लेकिन निश्चित तौर पर दो बड़ी टीमों के लिए नहीं। परंपरा से खिलवाड़ नहीं करना चाहिए।’
कोहली ने गुवाहाटी में श्रीलंका के खिलाफ खेले गए पहले टी20 मैच की पूर्व संध्या पर संवाददाता सम्मेलन में चार दिन के टेस्ट मैच का विरोध किया था। कोहली ने कहा था, ‘आप टेस्ट क्रिकेट में ज्यादा से ज्यादा डे-नाइट टेस्ट का बदलाव कर सकते हैं। आप फिर सिर्फ आंकड़ों और नंबर की बातें कर रहे हैं। मुझे लगता है कि मंशा सही नहीं होगी क्योंकि इसके बाद आप तीन दिन के टेस्ट मैच की बात कहने लगेंगे। आप कहां रुकेंगे? इसके बाद आप टेस्ट क्रिकेट को खत्म करने की बात कहेंगे।’
उन्होंने कहा, ‘मैं इसके पक्ष में नहीं हूं। मुझे नहीं लगता है कि यह खेल के सबसे शुद्ध प्रारूप के लिए सही होगा।’ शास्त्री ने भी इसके खिलाफ बोला और इसे बकवास बताया था। इन दोनों से पहले महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर समेत ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन, ग्लैन मैक्ग्रा, नाथन लॉयन, रिकी पॉन्टिंग, साउथ अफ्रीका के वर्नोन फिलैंडर, पाकिस्तान के शोएब अख्तर भी इसकी खिलाफत कर चुके हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *