कल और परसों बैंक हड़ताल, 2 फरवरी को है रविवार

नई दिल्‍ली। सरकार के साथ बातचीत विफल रहने के बाद तमाम बैंक यूनियनों ने हड़ताल जारी रखने का फैसला लिया। सार्वजनिक क्षेत्र के देश के ज्यादातर बैंक 31 जनवरी और एक फरवरी को बंद रहेंगे। दो फरवरी को भी बैंक बंद रहेंगे क्योंकि उस दिन रविवार है।
इस बार हड़ताल का समय काफी अहम है क्योंकि 31 जनवरी को आर्थिक सर्वे रिपोर्ट और 1 फरवरी को बजट पेश किया जाना है।
IBA के साथ बैठक में नहीं निकला हल
बैंक हड़ताल से ठीक पहले मुख्य श्रम आयुक्त (CLC)ने इंडियन बैंक्स एसोसिएशन(IBA) को बैंक यूनियंस के साथ वेतन समझौते के लिए मीटिंग बुलाने के लिए निर्देश दिए थे। उसी के तहत आज IBA ने बैंक यूनियंस के संगठन (UFBU) को मुम्बई में बैठक के लिए बुलाया था। बैठक में IBA द्वारा कोई बढ़ोतरी का नया प्रस्ताव न देने के कारण बैंक यूनियंस ने 31 जनवरी और 1 फरवरी 2020 की प्रस्तावित आल इंडिया बैंक हड़ताल को जारी रखने का निर्णय लिया है।
सैलरी बढ़ाने की मांग पर प्रदर्शन
बैंक कर्मचारी नवंबर 2017 से सैलरी बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। अभी तक 12.25% वेतन बढ़ाने का ऑफर किया गया है जो कि यूनियंस की मंजूर नहीं है। उम्मीद की जा रही है कि 10 लाख बैंक कर्मचारी और अधिकारी 31 जनवरी और 1 फरवरी को 2 दिन की हड़ताल पर रहेंगे।
मार्च में भी 3 दिनों की हड़ताल
इस हड़ताल के बाद एकबार फिर से बातचीत की कोशिश की जाएगी। अगर बातचीत नहीं बन पाती है तो मार्च में 11,12 और 13 को 3 दिन की हड़ताल की चेतावनी दी गई है। उसके बाद भी शर्त नहीं मानने पर 1 अप्रैल 2020 से अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी दी गई है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *