उत्तम सिन्हा पर बनारस के युवाओं ने बनाई Short film ‘सोच-आलय’

वाराणसी। ट्रेन और अन्य पब्लिक टाॅयलेट में लिखी गंदी बाताें काे मिटाने वाले धनबाद के उत्तम सिन्हा पर बनारस के युवाओं की एक टीम ने Short film “सोच-आलय” बनाई है।

इस Short film का चयन “दादासाहेब फालके अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल-2020” के लिए हुआ है। 5 मिनट 43 सेकेंड की इस फिल्म में ट्रेन में सफर कर रहे एक परिवार काे दिखाया गया है। एक बेटी शाैचालय से लाैटने के बाद गंदे शब्द और उसके साथ लिखे माेबाइल नंबर काे लेकर पिता से सवाल पूछती है। यह देख पिता के साथ-साथ मां भी साेचने काे मजबूर हाे जाती है। तब पिता शाैचालय में लिखी गंदी बाताें काे मिटाते हैं।

 

फिल्म के निर्देशक राणा अंशुमान सिंह हैं। निर्माता शशि प्रकाश चंदन और सूर्यशीष ईशान जायसवाल हैं।

टीम ने बताया कि एक अखबार में उत्तम सिन्हा की खबर पढ़ी थी। उस खबर ने इतना प्रेरित किया कि हमने इस सोच को फिल्म का रूप देने का निर्णय लिया। ताकि उसे अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचा जा सके। टीम ने वाराणसी के अंतरराष्ट्रीय पुरस्कृत नाट्य संस्थान “मंंचदूतम” के कलाकारों के साथ मिलकर यह शार्ट फिल्म बनाई है, जिसकी लागत महज एक हजार रुपए है।

फिल्म में उत्तम सिन्हा का किरदार अजय रोशन निभा रहे हैं। उत्तम सिन्हा की पत्नी और बेटी का किरदार ज्योति और नाव्या निभा रही हैं। फिल्म में मोनेश श्रीवास्तव और शशि प्रकाश चंदन भी किरदार निभा रहे हैं।

फिल्म के गाने को राजीव सिंह ने आवाज दी है। टीम ने अब इस शॉर्ट फिल्म को वाराणसी के हर विद्यालय में बच्चाें काे दिखाने का निर्णय लिया है।

– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *