अजहरूद्दीन बोले, फिर से तैयार किया जाए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर

नई दिल्‍ली। पूर्व भारतीय कप्तान और अब प्रशासक मोहम्मद अजहरूद्दीन का मानना है कि सभी बोर्ड को बैठक करके अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर को फिर से तैयार करना चाहिए। क्योंकि कोविड-19 महामारी के कारण वर्तमान कार्यक्रम के अनुसार खेल संभव नहीं हैं।
हैदराबाद क्रिकेट संघ (HCA) के अध्यक्ष अजहरूद्दीन का इसके साथ ही मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) घरेलू और विदेशी खिलाड़ियों दोनों के लिए महत्वपूर्ण है और इसलिए भविष्य के कार्यक्रम (FTP) में बदलाव भी जरूरी है।
इस 57 वर्षीय पूर्व क्रिकेटर ने पीटीआई से कहा, ‘मुझे पूरा विश्वास है कि वे दो साल के लिए एफटीपी को फिर से तैयार करेंगे क्योंकि वर्तमान परिस्थितियों में बहुत अनिश्चितता बनी हुई है। मेरे कहने का मतलब है कि आप अच्छे दौर के लिए हमेशा तैयार रहते हैं लेकिन बुरे समय के लिए तैयार नहीं रह सकते।’
उन्होंने कहा, ‘एक बार चीजें संभलने के बाद हमें अन्य सदस्य देशों के साथ बातचीत करनी चाहिए।’ भारत में इस महीने के आखिर तक लॉकडाउन बढ़ने की संभावना है और ऐसे में आईपीएल का अनिश्चितकाल तक स्थगित होना निश्चित है। पहले यह टूर्नामेंट 29 मार्च से 24 मई के बीच खेला जाना था।
अजहर ने कहा, ‘अगर उन्हें आईपीएल के लिए जगह बनानी है तो पूरे कार्यक्रम को बदलने की जरूरत पड़ेगी। यह एक विकल्प है। या तो फिर वर्तमान कार्यक्रम पर ही बने रहो और जिस टूर्नमेंट का समय बीत गया उसे भूल जाओ।’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन इसका मतलब सभी हितधारकों को बड़ा नुकसान होगा जो कि व्यावहारिक नहीं है।’
हैदराबाद क्रिकेट संघ को सनराइजर्स हैदराबाद के सात मैचों की मेजबानी करनी है। अजहर ने कहा, ‘इसलिए मैं एफटीपी में पूर्ण परिवर्तन की उम्मीद कर रहा हूं ताकि हम उसमें आईपीएल को भी फिट कर सकें। मुझे लगता है कि सभी बोर्ड इस पर सहमत होंगे क्योंकि हर कोई प्रभावित हो रहा है। निश्चित तौर पर बीसीसीआई सबसे अधिक प्रभावित होगा।’
आईपीएल इतना अधिक महत्वपूर्ण है कि जोस बटलर और पैट कमिन्स जैसे विदेशी खिलाड़ियों ने भी साल के किसी भी समय में इस टूर्नामेंट में खेलने की इच्छा जताई है। अजहर ने कहा, ‘कोई भी आईपीएल को न नहीं कहेगा। विदेशी खिलाड़ी भी नहीं। आईपीएल पर इतने अधिक लोगों की आजीविका निर्भर है।’
तीन वर्ल्ड कप में भारत की अगुवाई करने वाले अजहर को नहीं लगता कि ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर नवंबर में होने वाले T20 वर्ल्ड कप पर प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि टी20 वर्ल्ड कप पर असर पड़ेगा। यह अक्टूबर के तीसरे सप्ताह में शुरू होगा और अगर तब तक चीजों में सुधार हो जाता है तो फिर टी20 वर्ल्ड कप होगा।’
अजहर ने कहा, ‘यह पूरी तरह से मेरी निजी राय है क्योंकि आप वर्ल्ड कप से छेड़छाड़ नहीं कर सकते। आईपीएल को आपको किसी अन्य समय में आयोजित करना होगा।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *