अयोध्या के संतों ने कहा: ठाकरे का ‘मातोश्री’ भी मानकों के विपरीत, उसे गिराएं

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौट के ऑफिस में बीएमसी द्वारा तोड़फोड़ किए जाने का कई लोग विरोध कर रहे हैं। वहीं अब अयोध्या के संत भी कंगना समर्थन में उतर आए हैं। संतों ने इसे प्रतिशोध करार दिया है। अयोध्या में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे का पुतला फूंका गया।
विरोध प्रदर्शन की अगुवाई करने वाले तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने मुंबई में मातोश्री को भी गिराने की मांग की है। परमहंस दास ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निजी आवास मातोश्री के निर्माण को मानकों के विपरीत बताया है।
परमहंस दास ने कहा, शिवसेना के सांसद संजय राउत ने जिस तरह देश की बेटी कंगना रनौट के खिलाफ अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया और उनका दफ्तर गिराया गया वह गलत है। जिस मातोश्री में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे रहते हैं, वह मानकों के हिसाब से नहीं है इसलिए उसे भी गिराया जाना चाहिए।
उन्होंने कहा कि मुंबई में तो तमाम अवैध निर्माण हैं, लेकिन सिर्फ बदले की भावना से साजिश के तहत कंगना रनौट का दफ्तर गिराया गया। हिंदू हृदय सम्राट बाला साहब ठाकरे ने शिवसेना पार्टी का गठन हिंदुत्व और भगवा की रक्षा के लिए किया था लेकिन अब शिवसेना पार्टी देश विरोधियों का संगठन बन गई है।
बता दें, बीएमसी ने बीते दिन कंगना रनौट के ऑफिस में तोड़फोड़ की है। इस मामले में कई बॉलीवुड सितारों ने भी नाराजगी जताई। कंगना रनौत ने खुद वीडियो शेयर किया और कहा कि जिस तरह मेरा घर टूटा है, उसी तरह उद्धव ठाकरे का घमंड भी टूटेगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *