Ateek Ahmed की देवरिया जेल में दबंगई, प्रॉपर्टी डीलर को अगवा करा पीटा

बाहुबली Ateek Ahmed ने बेटे संग मिल कर प्रॉपर्टी डीलर की बेतहाशा पिटाई कर 45 करोड़ की जमीन अपने नाम पर लिखवा ली

देवरिया। एक फिल्‍मी घटनाक्रम में Ateek Ahmed की देवरिया जेल में दबंगई की घटना सामने आई है। लखनऊ के प्रॉपर्टी डीलर मोहित जायसवाल को बुधवार शाम गोमतीनगर उनके ऑफिस से अगवा कर देवरिया जिला जेल ले जाया गया था। जहां बाहुबली Ateek Ahmed ने अपने बेटे संग मिल कर प्रापर्टी डीलर की बेतहाशा पिटाई करते हुए उससे 45 करोड़ की जमीन अपने नाम पर लिखवा ली। उसकी एसयूवी गाड़ी भी अतीक अहमद के गुर्गो ने लूट ली। बाहुबली के चंगुल से छूट कर किसी तरह लखनऊ पहुंचे मोहित ने आला अधिकारियों को वारदात की खबर दी। देवरिया जेल में हुई घटना की जानकारी मिलते ही हड़कंप मच गया। आनन-फानन में टीमें बना कर छानबीन शुरू की गई। वहीं, शनिवार को कृष्णानगर पुलिस ने अतीक अहमद के दो गुर्गों को गिरफ्तार कर लिया।
रंगदारी देने से मना करने पर किया अगवा
रियल स्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल से अतीक अहमद पहले भी कई बार रंगदारी वसूल चुका था। मोहित के मुताबिक पूर्व सांसद के खौफ की वजह से वह पुलिस के पास नहीं गया था। इस बीच अतीक की नजर उसकी एक जमीन पर पड़ गई। कुछ दिन पहले फोन कर करोड़ों रुपए की जमीन अतीक के नाम पर करने के लिए कहा गया। मोहित ने उसकी बात मानने से इनकार कर दिया। नतीजतन अतीक ने अपने गुर्गों को कारोबारी का अपहरण करने के लिए लगा दिया। बुधवार को मोहित अपने ऑफिस से निकल रहा था। तभी बदमाशों ने कार समेत उसको अगवा कर लिया। तमंचे के बल पर बंधक बना कर उसे देवरिया जेल में अतीक अहमद के सामने पेश किया गया। जहां उस पर जमीन सादे स्टाम्प पेपर पर साइन करने का दबाव बनाया गया। इनकार करने पर अतीक, उसके बेटे उमर, गुर्गे गुरफान, फारूख, गुलाम व इरफान ने जेल की बैरक में मोहित को बेतहासा पीटा। तमंचे की बट व लोहे की राड से उस पर कई वार किए गए। उसके बेसुध होते ही जबरन सादे स्टाम्प पेपर पर दस्तखत बनवा लिए गए।
शिकायत करी तो जान से जाओगे
मोहित के मुताबिक जेल के अन्दर उसके साथ मारपीट की गई। इस दौरान जेल अधिकारी मौन रहे। उसने बताया कि अतीक अहमद ने करीब 45 करोड़ रुपए की सम्पत्ति अपने नाम करा ली। उसकी एसयूवी गाड़ी भी पूर्व सांसद के गुर्गो ने लूट ली। साथ ही धमकी दी कि अगर पुलिस में जाओगे तो अपनी जान से हाथ धो बैठोगे।
शुक्रवार देर रात लिखा मुकदमा
देवरिया जेल से किसी तरह बाहर निकलने में कामयाब रहा मोहित दोस्तों की मदद से लखनऊ पहुंचा। शुक्रवार को उसने पुलिस के आला अधिकारियों से मुलाकात कर घटना के बारे में बताया। कारोबारी का अपहरण कर जमीन के कागज पर दस्तखत कराए जाने की बात पता चलते ही पुलिस के भी हाथ पांव फूल गए। नतीजतन कृष्णानगर थाने में अपहरण, धोखाधड़ी, रंगदारी मांगने, जाली कागज तैयार करने व आपराधिक साजिश रचने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।
गोमतीनगर के अपार्टमेंट से अतीक के गुर्गे गिरफ्तार
कृष्णानगर थाने के इंस्पेक्टर यशकांत सिंह ने बताया कि कारोबारी के साथ हुई वारदात की छानबीन में जुटी कृष्णानगर पुलिस ने गोमतीनगर के सिल्वर लाइन अपार्टमेंट से सुलतानपुर निवासी गुलाम इमामुद्दीन व प्रतापगढ़ निवासी इरफान को गिरफ्तार किया। उनके पास से मोहित जायसवाल से लूटी गई एसयूवी गाड़ी भी बरामद हुई। वहीं, पुलिस टीमें बना कर अतीक के बेटे उमर व अन्य साथियों की तलाश की जा रही है। एक टीम ने इलाहाबाद में डेरा डाला हुआ है। इसके अलावा अन्य शहरों के लिए भी टीमें रवाना की गई हैं।

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *