अटल बिहारी वाजपेयी की दूसरी पुण्‍यतिथि आज, दिग्‍गज नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

नई दिल्‍ली। आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की दूसरी पुण्‍यतिथि है। उनके समाधि स्‍थल ‘सदैव अटल’ पहुंचकर राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप-राष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत दिग्‍गज नेताओं ने श्रद्धांजलि दी। कई केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के अन्‍य नेता भी स्‍मारक पहुंचे। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश सदैव उनकी अभूतपूर्व सेवा और देश के विकास में उनके योगदान को याद रखेगा। अटल बीजेपी के पहले नेता थे जो प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठे।
वाजपेयी ने देश को दिखाई ‘गुड गवर्नेंस की झलक’: शाह
प्रधानमंत्री मोदी ने अटल की कविता ‘हार नहीं मानूंगा, रार नई ठानूंगा’ साझा करते हुए उन्‍हें याद दिया। साल 2018 में लंबी बीमारी के बाद अटल का निधन हो गया था। विरोधियों के बीच भी खासे लोकप्रिय रहे अटल को श्रद्धांजलि देते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि देश ने पहली बार वाजपेयी के नेतृत्‍व में ‘गुड गवर्नेंस’ को लागू होते हुए देखा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वाजपेयी ने सार्वजनिक जीवन और भारत के विकास में जो योगदान दिया उसे सदैव याद रखा जाएगा। बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने भी समाधि स्‍थल पहुंच अटल को श्रद्धांजलि दी।
तीन बार प्रधानमंत्री रहे थे अटल
वाजपेयी तीन बार भारत के प्रधानमंत्री रहे। पहली बार वह 16 मई 1996 को प्रधानमंत्री बने लेकिन बहुमत साबित नहीं कर पाने के कारण उनके इस कार्यकाल पर 28 मई 1996 को ही विराम लग गया। उसके बाद वह 19 मार्च 1998 से 17 अप्रैल 1999 तक प्रधानमंत्री रहे। वह अंत में 13 अक्टूबर 1999 से 22 मई 2004 तक सत्ता में रहे थे। वाजपेयी ने सबसे पहले प्रधानमंत्री के तौर पर 13 दिन, दूसरी बार 408 दिन और तीसरी बार 1,847 दिन बिताए और सभी कार्यकाल को मिलाकर वह 2,268 दिनों तक देश के प्रधानमंत्री रहे।
पीएम मोदी ने तोड़ा है वाजपेयी का रेकॉर्ड
दो दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाजपेयी को पीछे छोड़ते हुए सबसे लंबे समय तक सत्ता में रहने वाले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री बनने का रेकॉर्ड अपने नाम किया है। मोदी भारतीय इतिहास में चौथे सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले प्रधानमंत्री बन गए हैं। इससे पहले जिन तीन प्रधानमंत्रियों का नाम इस सूची में शामिल है, वे सभी कांग्रेस के थे।
PM मोदी ने याद करते हुए जारी किया खास संदेश
मोदी ने अपने संदेश में कहा कि देश के विकास में आपके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा। उन्होंने साथ में 1.48 मिनट का एक ऑडियो विजुअल संदेश भी शेयर किया है। पीएम मोदी के अलावा गृहमंत्री अमित शाह, केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी समेत अन्य कई नेताओं ने भी अटलजी को याद किया।
एक ऑडियो वीडियो शेयर कर श्रद्धांजलि
इस संदेश की शुरुआत वाजपेयी की मशहूर कविता- हार नहीं मानूंगा, रार नहीं ठानूंगा से शुरू होती है। उसके बाद पीएम मोदी की आवाज पीछे से आती है। इसमें वे कहते हैं कि अटल जी के योगदान को देश कभी नहीं भुला पाएगा। भारत को उन्होंने परमाणु शक्ति बनाया। उन्होंने कहा कि एक नेता के रूप में, सांसद के रूप में, मंत्री के रूप में और प्रधानमंत्री के रूप में अटल जी हमेशा सभी के लिए आदर्श रहे।
स्वतंत्रता दिवस संबोधन में भी में भी मोदी ने किया था वाजपेयी का जिक्र
बता दें कि 74वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद किया। उन्होंने स्वर्णिम चतुर्भुज का जिक्र करते हुए कहा कि देश इसे गर्व से देख रहा है। स्वर्णिम चतुर्भज हाइवे प्रोजेक्ट वाजपेयी का ड्रीम प्रोजेक्ट था और आज न सिर्फ यह आजाद भारत का सबसे बड़ा इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट है, बल्कि दुनियाभर में सबसे विशाल हाइवे प्रोजेक्ट्स में से एक है।
अमित शाह ने ट्वीट कर दी श्रद्धांजलि
गृहमंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी है। अपने ट्वीट में शाह ने लिखा, ‘आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार अटल जी के विचारों को केंद्र में रखकर सुशासन व गरीब कल्याण के मार्ग पर अग्रसर है और भारत को विश्व में एक महाशक्ति बनाने के लिए कटिबद्ध है। श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की पुण्यतिथि पर उन्हें कोटि-कोटि वंदन।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *