सत्‍ता संभालते ही भारतीयों को बड़ी खुशखबरी देने जा रहे हैं जो बाइडन

वॉशिंगटन। डोनाल्‍ड ट्रंप के साथ सत्‍ता के लिए चली लंबी लड़ाई में करारी श‍िकस्‍त देने वाले अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्‍ट्रपति जो बाइडन सत्‍ता संभालते ही भारतीयों को पहले दिन एक बड़ी खुशखबरी देने जा रहे हैं। जो बाइडन अपने प्रशासन के पहले दिन एक आव्रजन विधेयक पेश करने की योजना बना रहे हैं। इसमें देश में कानूनी दर्जे के बिना रह रहे करीब एक करोड़ 10 लाख लोगों को आठ साल के लिए नागरिकता देने का प्रावधान होगा। एक अनुमान के मुताबिक इसमें करीब 5 लाख लोग भारतीय मूल के हैं।
यह आव्रजन विधेयक निवर्तमान ट्रंप प्रशासन की कड़ी आव्रजन नीतियों के विपरीत होगा। विधेयक संबंधी जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने अपनी पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि बाइडन के बुधवार को शपथ ग्रहण करने के बाद यह विधेयक पेश किया जा सकता है। राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार के तौर पर बाइडन ने आव्रजन पर ट्रंप के कदमों को अमेरिकी मूल्यों पर ‘कठोर हमला’ करार दिया था।
1.1 करोड़ अवैध प्रवासियों को वैध बनाने का वादा
बाइडन ने कहा था कि वह इस ‘नुकसान की भरपाई करेंगे।’ इस विधेयक के तहत एक जनवरी 2021 तक अमेरिका में किसी कानूनी दर्जे के बिना रह रहे लोगों की पृष्ठभूमि की जांच की जाएगी और यदि वे कर जमा करते हैं और अन्य बुनियादी अनिवार्यताएं पूरी करते हैं, तो उनके लिए पांच साल के अस्थायी कानूनी दर्जे का मार्ग प्रशस्त होगा या उन्हें ग्रीन कार्ड मिल जाएगा। इसके बाद उन्हें तीन और साल के लिए नागरिकता मिल सकती है।
कई मुस्लिम देशों से लोगों के आगमन पर रोक समेत आव्रजन संबंधी ट्रंप के कदमों को पलटने के लिए बाइडन द्वारा त्वरित कदम उठाए जाने की संभावना है। बाइडन ने कहा कि वह कांग्रेस के साथ वीजा प्रणाली, एच 1-बी वीजा में सुधार करने के लिए काम करेंगे, ताकि वीजा पर रहने वालों को नौकरी स्विच करने की अनुमति मिल सके। इससे भारतीय कामगारों को काफी फायदा हो सकता है। बाइडन ने 1.1 करोड़ अवैध प्रवासियों को वैध बनाने का वादा किया गया था, उनके घोषणापत्र के अनुसार इनमें से 500,000 भारतीय हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *