अप्सा व आगरा सिटी रेडिको की लेखन प्रतियोगिता, आवेदन मांगे

आगरा। बेकन ने कहा, ”पढ़ना एक पूर्ण आदमी बनाता है, एक पूर्ण आदमी बातचीत करता है, और एक सटीक आदमी लिखता है।“ विद्यार्थियों के रचनात्मक लेखन कौशल तथा विचारात्मक शक्ति कौशल की अभिव्यक्ति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ‘अप्सा’ के द्वारा आगरा सिटी रेडिको के संयुक्त तत्वावधान में एक लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। अधिकांश संस्कृतियों में लिखा गया शब्दों तुलना में अधिक मूल्यवान है और चिर स्थाई रूप में सुरक्षित रहता है। लेखन एक विचार प्रक्रिया है और व्यक्त करने का एक उपकरण भी। आज जब सभी लोग लाॅक डाउन के कारण घर में हैं, तो ऐसी परिस्थितियों में भी छात्रों को उनकी अभिव्यक्ति के लिए, उनके व्यक्तित्व का विकास करने के उद्देश्य यह अनोखी सकारात्मक पहल निश्चित ही एक सराहनीय कदम है।

अध्यक्ष के0सी0 जैन, उपाध्यक्ष डॉक्टर सुशील गुप्ता व सचिव दीपेन्द्र शंकर ने न‍िम्न सूचना देते हुए प्रत‍ियोग‍िता का पूरा ब्यौरा द‍िया है ।

1- प्रतियोगिता की समयावधिः-
यह प्रतियोगिता दिनांक 24.04.2020 से 30.04.2020 तक खुली रहेगी।

2- प्रतियोगिता के वर्गः-
प्रतियोगिता 3 वर्गों में आयोजित की जाएगी-
पहला वर्ग कक्षा 3 से लेकर कक्षा 5
दूसरा वर्ग कक्षा 6 से लेकर कक्षा 9
तीसरा वर्ग कक्षा 10 से लेकर कक्षा 12

3- लेखन प्रतियोगिता का विषयः-
प्रथम वर्गः (कक्षा 3 से लेकर कक्षा 5 तक) के लिये विषय-
”लाॅकडाउन के दौरान हमारे खट्टे मीठे अनुभव“

द्वितीय वर्गः (कक्षा 6 से लेकर कक्षा 9 तक) के लिये विषय-
”प्रकृति के प्रति सम्मान ही कोरोना वायरस जैसी महामारियों से हमें भविष्य में बचाएगा।“

तृतीय वर्गः (कक्षा 10 से लेकर कक्षा 12 तक) के लिये विषय-
”लाॅकडाउन समाप्ति के बाद हमारी कार्य संस्कृति में कैसे बदलाव होंगे“

4- लेखन प्रतियोगिता की भाषाः-
छात्र/छात्रा अपने भावों को स्वेच्छा से हिंदी अथवा अंग्रेजी में व्यक्त कर सकते हैं।

5- लेखन की शब्द सीमाः-
500 शब्द

6- लेखन की विधिः-
हस्तलिखित (कागज के एक ओर ही लिखें)

7- लेखन में प्रतिभागियों द्वारा दिया जाने वाला विवरणः-
विद्यार्थी का नाम, कक्षा, विद्यालय का नाम।

8- लेख पर प्रमाण-पत्रः-
प्रतिभागी द्वारा अपने लेख के अंत में माता-पिता के हस्ताक्षर द्वारा यह प्रमाणित किया जायेगा कि यह लेख उसका मौलिक लेख है, जिसे उसने स्वयं की हस्तलिपि में लिखा है।

9- पुरूस्कारः-
प्रत्येक वर्ग में 5 पुरूस्कार होंगे।

प्र्रथम पुरूस्कार – रू0 5000/-
द्वितीय पुरूस्कार – रू0 3000/-
तृतीय पुरूस्कार – रू0 2000/-
एवं दो सांत्वना पुरूस्कार रू0 1000/-

निर्णायक मंडल का निर्णय अन्तिम होगा। निर्णायक मंडल की नियुक्ति ‘अप्सा’ द्वारा की जायेगी। प्रतिभागी अपने लेख को स्कैन करके या फोटो खींचकर ई-मेल आई0डी.: ea@shankers.in पर भेजें। अधिक जानकारी के लिए मोबाईल नं0-9412263072 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *