एपीओ Nutan Yadav की हत्या, पुलिस को म‍िले अहम सुराग, जल्द होगा खुलासा

एटा। एटा में पुलिस लाइन स्थित सरकारी आवास में हुई एपीओ Nutan Yadav की हत्या में पुलिस को अहम सुराग म‍िले हैं, पुलिस का मानना है कि वारदात के पीछे किसी करीबी का हाथ है।
छानबीन के दौरान घटनास्थल से पुलिस ने कई साक्ष्य जुटाए हैं। एसएसपी कहना है कि जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया जाएगा।

एटा में एमहिला अधिकारी Nutan Yadav की बेरहमी से हत्या कर दी गई। मंगलवार की सुबह उनका शव सरकारी आवास में पड़ा मिला। महिला को पांच गोलियां मारी गई हैं। सूचना मिलते ही पुलिस अफसर मौके पर पहुंच गए। जांच की जा रही है।

आगरा जिले के बरहन थाना क्षेत्र के गांव खुशहालपुर निवासी नूतन यादव (35) पुत्री जगदीश प्रसाद यादव एपीओ (सहायक अभियोजन अधिकारी) पद पर एटा के जलेसर न्यायालय में कार्यरत थी। पुलिस लाइन स्थित सरकारी आवास में भाई के साथ रहती थी।

सोमवार को भाई घर चला गया। आवास पर वो अकेली थी। मंगलवार की सुबह पहुंची काम करने वाली महिला ने कमरे के अंदर खून से लथपथ उनका शव पड़ा था। वो चीख पड़ी। महिला के चिल्लाने की आवाज सुन आसपास के लोग निकल आए।

एपीओ की हत्या होने की जानकारी मिलते ही एसएसपी स्वप्निल ममगई, एएसपी संजय कुमार और न्यायालय के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने आवास को अपने कब्जे में ले लिया। किसी को भी अंदर नहीं जाने दिया।

छानबीन के दौरान नूतन यादव के कमरे से एक मोबाइल फोन बरामद हुआ। महिला अधिकारी के चेहरे और सिर में पांच गोलियां मारी गई हैं। मौके से 32 बोरे के पांच खोखे बरामद हुए हैं। अभी तक हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है।

एसएसपी स्वप्निल ममगई ने बताया कि घटनास्थल पर छानबीन कर साक्ष्य जुटाए गए हैं। अभी तक जो तथ्य सामने आए हैं, उसके अनुसार महिला अधिकारी के किसी करीबी ने वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस जांच कर रही है।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *