अनुपम खेर FTII के नए चेयरमैन नियुक्त

नई दिल्ली। बॉलिवुड ऐक्टर अनुपम खेर को फिल्म ऐंड टेलिविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया FTII का नया चेयरमैन नियुक्त किया गया है। वह गजेंद्र चौहान का स्थान लेंगे।
बता दें कि चौहान की नियुक्ति काफी विवादित रही थी। गजेंद्र चौहान ने अनुपम खेर को चेयरमैन बनाए जाने पर खुशी जताई है। यह संस्थान सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अधीन है।
500 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके अनुपम खेर कई विदेशी फिल्मों में भी अपनी दमदार भूमिका से वाहवाही लूट चुके हैं। नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एक्टिंग का प्रशिक्षण लेने वाले अनुपम थिअटर का भी लंबा अनुभव रखते हैं।
अनुपम खेर की पत्नी और बीजेपी सांसद किरण खेर ने इस फैसले पर खुशी जताई। उन्होंने कहा, ‘मुझे अनुपम पर बहुत गर्व है। वह अच्छे से इस भूमिका को निभाएंगे। मैं सरकार और मोदी जी का आभार जताती हूं।’ हालांकि उन्होंने कहा कि किसी भी संस्था के अध्यक्ष की कुर्सी कांटों के ताज के समान होती है।
बता दें कि हाल ही में सरकार ने सेंसर बोर्ड के चेयरमैन पहलाज निहलानी को हटाकर प्रसून जोशी को जिम्मेदारी सौंपी है। निहलानी भी लंबे समय से विवादों में बने हुए थे।
सुभाष घई, मुधर भंडारकर, अशोक पंडित सहित कई डायरेक्टर्स ने इस फैसले पर खुशी जताई है। सुभाष घई ने कहा, ‘वह इस पद के लिए उपयुक्त हैं और मैं इसका स्वागत करता हूं। जो आपको गाइड करे, वह अच्छा होना चाहिए। अनुपम अच्छे शिक्षक साबित होंगे।’
मधुर भंडारकर ने कहा, ‘वह स्टूडेंट्स को बहुत कुछ सिखाएंगे और संस्थान को नई ऊंचाई पर ले जा सकते हैं। वह इंडस्ट्री में 30-35 साल से काम कर रहे हैं। उनकी विश्वसनियता बहुत अधिक है। लोगों को यह नहीं देखना चाहिए कि कोई किस पार्टी की तरफ झुकाव रहता है, लोगों को उसका काम देखना चाहिए।’
महीनों तक चला था विवाद
गजेंद्र चौहान को जून 2015 में FTII का नया चेयरमैन नियुक्त किया गया था लेकिन जॉइनिंग लेटर मिलने से पहले ही छात्रों ने उनकी नियुक्ति के विरोध में हड़ताल शुरू कर दी थी। उनके देशव्यापी आंदोलन ने तब राजनीतिक रंग ले लिया जब FTII कैंपस में आकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी हड़ताली छात्रों से मिले और प्रतिनिधिमंडल के साथ राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिलकर अविलंब हस्तक्षेप की मांग की। छह महीने तक जबर्दस्त वाद-विवाद के बाद अभिनेता गजेंद्र चौहान ने कामकाज संभाला। विवाद के दौरान सरकार अपने स्टैंड पर अड़ी रही।
सरकार के समर्थन में ‘मार्च फॉर इंडिया’ निकाल चुके अनुपम खेर
2 साल पहले जब लेखकों, फिल्मकारों, इतिहासकारों, वैज्ञानिकों द्वारा देश में बढ़ती असहिष्णुता के विरोध में अवॉर्ड वापसी की मुहिम चलाई जा रही थी उस दौरान अनपुम खेर सरकार के समर्थन में खुलकर खड़े हुए थे। बॉलिवुड ऐक्टर, डायरेक्टर अनुपम खेर ने देश में सहिष्णुता के समर्थन में नैशनल म्यूजियम से राष्ट्रपति भवन तक ‘मार्च फॉर इंडिया’ निकाला। इस मार्च में शामिल होने के लिए करीब दो हजार से ज्यादा लोग पहुंचे थे। मार्च के बाद उन्होंने तब के प्रेजिडेंट प्रणव मुखर्जी को ज्ञापन सौंपा था।
-एजेंसी