प्रतिवर्ष 21 मई को मनाया जाएगा आतंकवाद विरोधी दिवस: गृह मंत्रालय

नई दिल्‍ली। पूरे देश में आतंकवाद की चपेट में आ रहे युवाओं को पथभ्रष्‍ट होने से बचाने को अब केंद्र सरकार अब हर साल 21 मई को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्‍यतिथि पर आतंकवाद विरोधी दिवस (Anti-Terrorism Day) मनाएगी, गृह मंत्रालय की ओर से सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र जारी किया गया है। यह पत्र सभी राज्य के मुख्य सचिवों, सभी मंत्रालयों और विभागों के सचिवों को लिखा गया है। गौरतलब है कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 21 मई 1991 को आत्मघाती हमले में हत्या हुई थी।

युवाओं को किया जाएगा जागरूक
पत्र में कहा गया है कि इस दिन को मनाने का उद्देश्य युवाओं को आतंकवाद और हिंसा से दूर करना है। उन्हें बताया जाएगा कि आतंकवाद को खत्म करने के लिए केंद्र सरकार की ओर से कौन-कौन सी योजनाएं चलाई गई हैं। इसके अलावा उन्हें बताया जाएगा कि उनकी एक गलती किस तरह से राष्ट्रीय समस्या बन सकती है। केंद्र का मानना है कि अगर युवा सही रास्ते पर आ गए तो आतंकवाद खुद-ब-खुद खत्म हो जाएगा।

दिलाई जाएगी आतंकवाद विरोधी शपथ
पत्र में कहा गया है कि सभी कार्यालयों, सार्वजनिक क्षेत्र में आतंकवाद विरोधी शपथ भी दिलाई जाएगी। इसके अलावा डिजिटल व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से आतंकवाद विरोधी संदेश को भी प्रसारित किया जा सकता है। पत्र में कहा गया है कि केंद्र सरकार के कार्यालयों में 21 मई को शनिवार होने के चलते अवकाश रहेगा। ऐसे में 20 मई को शपथ दिलवाई जा सकती है। हालांकि, राज्य सरकार के दफ्तरों या जहां शनिवार का अवकाश नहीं है वहां 21 मई को ही शपथ दिलवाई जाए।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *