तमिलनाडु में 10 मई से दो हफ्ते के लिए के पूर्ण लॉकडाउन

चेन्नै। कोरोना संक्रमण के कहर को देखते हुए तमिलनाडु सरकार ने 10 मई से दो हफ्ते के लिए पूर्ण लॉकडाउन लगाने की घोषणा की। तमिलनाडु में 10 मई से 24 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन लागू रहेगा। एक दिन पहले ही सीएम पद की शपथ लेने के बाद तमिलनाडु के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने राज्य में संपूर्ण लॉकडाउन का फैसला लिया।
तमिलनाडु में शुक्रवार को एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के सर्वाधिक 26,465 नए मामले सामने आए। इसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 13,23,965 हो गई हैं। वहीं बीते 24 घंटे में 197 कोरोना मरीजों की मौत के साथ ही मृतकों की तादाद 15,171 तक पहुंच गई है।
स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार शुक्रवार को 22,381 लोगों को छुट्टी दे दी गई। राज्य में अब उपचाराधीन रोगियों की संख्या 1,35,355 है। चेन्नै में संक्रमण के 6,738 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 3,77,042 हो गई है। अब तक 5,081 रोगियों की मौत हो चुकी है।
O2 संकट पर स्टालिन ने पीएम मोदी को लिखा खत
इससे पहले शुक्रवार को तमिलनाडु में ऑक्सीजन संकट को लेकर मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने पीएम मोदी को पत्र लिखा। उन्होंने राज्य को ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने और इसके लिए केंद्र से कंटेनर की उपलब्धता व रेल के जरिये परिवहन सुनिश्चित करने का अनुरोध किया। उन्होंने चेन्नई के नजदीक एक सरकारी अस्पताल में इस हफ्ते कथित तौर पर ऑक्सिजन की कमी के चलते 13 लोगों की मौत का जिक्र भी किया।
तमिलनाडु में ऑक्सीजन की रोजाना खपत 440 मीट्रिक टन
मोदी को लिखे पत्र में स्टालिन ने कहा कि तमिलनाडु में चिकित्सीय ऑक्सीजन की दैनिक खपत करीब 440 मीट्रिक टन है और इसके अगले दो हफ्ते में बढ़कर 840 मीट्रिक टन हो जाने की संभावना है। लेकिन राष्ट्रीय ऑक्सीजन योजना में राज्य को इसका आवंटन 220 मीट्रिक टन है जोकि असंगत है। राज्य के अधिकारियों ने एक और दो मई को आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग से चर्चा की। पत्र में उन्होंने कहा कि वे राज्य को 476 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए सहमत हो गए लेकिन इस संबंध में आदेश अभी तक जारी नहीं किया गया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *