बॉलीवुड में नेपोटिज्म और फेवरेटिज्म को लेकर गुस्‍सा बरकरार

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से लोगों का गुस्सा बॉलीवुड में नेपोटिज्म और फेवरेटिज्म को लेकर सोशल मीडिया पर साफ नजर आ रहा है। सुशांत के फैन्स का आरोप है कि नेपोटिज्म की वजह से उनके इस चहेते स्टार को वो जगह नहीं मिल पाई, जिसके वह वाकई में हकदार थे। अब ‘कट्टी बट्टी’ एक्ट्रेस मिथिला पालकर ने इस बारे में कुछ बातें कही हैं।
बीती घटना को किया याद
मिथिला पालकर ने बॉलीवुड में फेवरेटिज्म पर कुछ बातें कही हैं। उन्होंने उन्होंने एक बीती घटना को याद करते हुए कहा, एक टाइम था जब रोल के लिए वह एक्ट्रेस सिलेक्ट हुई थीं जिसने ऑडिशन दिया ही नहीं था और जिन सबने दिया था वो रिजेक्ट हो गई थीं। उन्होंने बताया कि ऑडिशन देने वालों में वह भी शामिल रही थीं।
10 लड़कियों ने दिया था ऑडिशन
उन्होंने कहा, ‘यह तब हुआ था जब हम 10 लड़कियां एक प्रोजेक्ट के ऑडिशन के लिए गई थीं, लेकिन हममें से किसी को वह रोल नहीं मिला, जबकि इसके लिए वह सिलेक्ट हुईं जिन्होंने ऑडिशन ही नहीं दिया था।’
कहा, कुछ ऐसा हो सिस्टम
मिथिला ने बॉलीवुड में टेलंट को मौके मिलने को लेकर भी कुछ बातें कहीं। उन्होंने कहा कि यहां एक ऐसा सिस्टम होना चाहिए, जहां किसी को ऐसा न लगे कि उनके साथ गलत हुआ है। मिथिला ने कहा, हम सबको एक जैसे मौके मिलने चाहिए।
‘गर्ल इन द सिटी’ रही खूब फेमस
बता दें कि मिथिला ने ‘कट्टी बट्टी’, ‘कारवां’, ‘चॉपस्टिक्स’ जैसी फिल्मों में काम किया है। इसके अलावा मिथिला ‘गर्ल इन द सिटी’, ‘लिटिल थिंग्स’ जैसे शोज़ में भी नजर आ चुकी हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *