Ex En से मारपीट: भाजपा जिलाध्यक्ष समेत चार के खिलाफ मुकदमा

नई दिल्‍ली। अंबेडकरनगर जिले के विद्युत वितरण खंड कार्यालय आलापुर के Ex En को आवास में बंधक बनाकर मारपीट करने के मामले में भाजपा जिलाध्यक्ष समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। Ex En की तहरीर पर बंधक बनाकर मारपीट करने व दलित उत्पीड़न एक्ट के तहत आपराधिक मुकदमा दर्ज हुआ है। अभियंताओं ने शुक्रवार की शाम को जिलाधिकारी से मुलाकात कर नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए आंदोलन की चेतावनी दी है।
बिजली विभाग की टीम ने चेकिंग और वसूली के दौरान गुरुवार को आलापुर क्षेत्र के हथिनाराज गांव निवासी हरिपाल पुत्र चोलई को दो हॉर्स पावर का मोटर अवैध रूप चलाते हुए पकड़ी थी। मोटर को टीम ने आलापुर थाने में जमा कर दिया था। आरोप है भाजपा जिलाध्यक्ष कपिलदेव वर्मा मोटर को छुड़ाने का अनुचित दबाव बना रहे थे। न छोड़ने पर शाम को लगभग साढ़े पांच बजे जिलाध्यक्ष कपिल देव वर्मा, अभिषेक कन्नौजिया और बब्बू सिंह समेत अन्य लोग कार्यालय पर पहुंचकर अधिशासी अभियंता व अन्य कर्मचारियों को गाली गलौज देते हुए मारा पीटा और जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए जान से मारने की धमकी दी। उपकेंद्र की लाग सीट को फाड़ दिया, अधिशासी अभियंता के सीयूजी मोबाइल को भी तोड़कर फेंक दिया था। थाने में तहरीर देने के बाद जब कार्रवाई नहीं हुई तो विद्युत कर्मियों ने पहले आलापुर और फिर रात्रि में पूरे जिले की विद्युतापूर्ति ठप कर दी थी। इससे प्रशासनिक अमले में खलबली मच गई। उच्चाधिकारियों के आदेश के बाद आलापुर थाने में मुकदमा दर्ज हो गया।
आलापुर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक एनएन शर्मा ने बताया कि अधिशासी अभियंता लालचंद राम की तहरीर पर भाजपा जिलाध्यक्ष कपिलदेव वर्मा, अभिषेक कन्नौजिया, बब्बू सिंह समेत चार लोगों के खिलाफ मारपीट कर बंधक बनाने, सरकारी कार्य में बांधा की धारा और दलित उत्पीड़न एक्ट के तहत अभियोग दर्ज करके मामले की छानबीन की जा रही है।

डीएम से मिला प्रतिनिधिमंडल, 24 घंटे की मोहलत
आलापुर बिजली वितरण खंड के Ex En लालचंद राम से मारपीट की घटना के बाद विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को जिलाधिकारी से मिला। प्रतिनिधिमंडल ने डीएम को दिए गए ज्ञापन में कहा है कि मामले में अधिशासी अभियंता पर सुलह समझौते का दबाव बनाने और मेडिकल रिपोर्ट को भी प्रभावित करने की कोशिश की जा रही है। पुलिस और डाक्टर भाजपा नेता के प्रभाव में हैं।
अभियंताओं ने जिलाधिकारी से कहा कि असुरक्षा के माहौल में कर्मचारियों और अधिकारियों में दहशत है। अभियंताओं ने कहा कि यदि 24 घंटे के भीतर आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो संघर्ष समिति मजबूरन अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होगी। इस मौके पर विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के जिलाध्यक्ष इंजीनियर वीके पटेल, अभियंता संघ के अध्यक्ष इंजीनियर सत्यनारायण, विद्युत कार्यालय सहायक संघ राम रतन यादव, राजकीय विद्युत परिषद कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अमरजीत यादव, मंडल सचिव इंजीनियर फूलचन्द्र, विद्युत मजदूर पंचायत उत्तर प्रदेश के मंडल अध्यक्ष महेंद्र त्यागी समेत अन्य अभियंता मौजूद रहे।

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *