फर्जी प्रोडक्ट रोकने के लिए Amazon द्वारा 10 अरब से ज्यादा लिस्टिंग रिमूव

नई दिल्ली। ई-कॉमर्स कारोबार की दिग्गज कंपनी ऐमजॉन Amazon ने अपने प्लेटफार्म से फर्जी प्रोडक्ट को हटाने की बड़ी कोशिश के तहत 10 अरब से ज्यादा लिस्टिंग को रिमूव कर दिया है। पिछले काफी समय से ई-कॉमर्स की दिग्गज कंपनी ऐमजॉन पर दबाव था कि वह अपनी वेबसाइट से नकली और फर्जी प्रोडक्ट की लिस्टिंग को हटाए। शॉपिंग करने वाले लोगों, ब्रांड और कानून के तहत भी दुनिया की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी कई दबाव से जूझ रही थी।
ऐमजॉन ने कहा है कि इसने 10 अरब से ज्यादा सस्पेक्टेड लिस्टिंग को अपनी वेबसाइट से हटा दिया है। साल 2019 में ऐमजॉन ने नए टूल और टेक्नोलॉजी की घोषणा की थी जिसके माध्यम से उसकी वेबसाइट से नकली प्रोडक्ट को हटाया जा सके। पिछले साल अमेज़न ने इस तरह की 67% अधिक लिस्टिंग को अपनी वेबसाइट से हटाया था।
कोरोना संकट में ठगों ने तलाशा मौका
ई-कॉमर्स कारोबार की दिग्गज कंपनी ऐमजॉन ने कहा है कि कोरोना संक्रमण की अवधि में अधिक से अधिक लोग ऑनलाइन शॉपिंग कर रहे थे और इस वजह से धोखाधड़ी करने वाले लोगों की संख्या काफी बढ़ गई थी। कोरोना वायरस संकट में ऐमजॉन की वेबसाइट पर नकली प्रोडक्ट की बाढ़ आ गई थी। इसकी वजह यह थी कि धोखाधड़ी करने वाले लोग ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले अधिक से अधिक ग्राहकों को अपने जाल में फंसाना चाहते थे।
ऐमजॉन की छवि पर असर
ऐमजॉन के लिए नकली माल पर लगाम लगाने से संबंधित मुद्दा कई सालों से एक चुनौती के रूप में रहा है। साल 2019 से ऐमजॉन ने गवर्नमेंट फाइलिंग में निवेशकों को यह चेतावनी दी कि कंपनी और इसकी छवि पर नकली माल एक धब्बे की तरह काम कर रहे हैं। अगर ऐमजॉन की वेबसाइट पर इसी तरह नकली माल बिकता रहा तो बड़े ब्रांड उस पर अपना सामान बेचने से इंकार कर सकते हैं। इसके साथ ही ब्रांड से संबंध टूटने का शॉपिंग करने वाले लोगों पर असर पड़ सकता है। उनका ऐमजॉन से भरोसा खत्म हो सकता है।
थर्ड पार्टी मार्केटप्लेस की मदद ले रहे हैं जालसाज
ऐमजॉन की वेबसाइट पर थर्ड पार्टी मार्केटप्लेस की मदद से नकली प्रोडक्ट बिकने के लिए पहुंच जाते हैं। थर्ड पार्टी मार्केटप्लेस में विक्रेता ऐमजॉन की साइट पर अपने आइटम को सीधे ही लिस्ट कर सकते हैं। कंपनी ने पिछले साल अपने वेयरहाउस में भेजे गए 20 लाख नकली प्रोडक्ट को डिस्ट्रॉय कर दिया था। यह ग्राहकों को सामान बेचे जाने से पहले की प्रक्रिया थी। ऐमज़ॉन ने कहा है कि इसकी वेबसाइट से शॉपिंग करने वाले लोगों के मुताबिक नकली प्रोडक्ट डिलीवरी के आंकड़े अभी 0.01% से भी कम हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *