गजब: क्‍या आपने धूप और परछाई पर Tax सुना है?

इनकम Tax, हाउस Tax आदि तो आपने सुना होगा लेकिन धूप टैक्स या परछाई Tax के बारे में आपने नहीं सुना होगा। आइए आज आपको बताते हैं कि दुनिया के किन देशों में ऐसे अजीबोगरीब टैक्स लगते हैं…
टैटू टैक्स
अमेरिका के ऑर्कन्सा राज्य में टैटू या शरीर में कोई और तस्वीर गुदवाने पर 6 फीसदी टैक्स देना होता है।
परछाई टैक्स
इटली के वेनेटो शहर में एक जगह का नाम कॉनेग्लियानो है। वहां होटल, रेस्ट्रॉन्ट या दुकान में लगे बोर्ड या टेंट की परछाई गली में बनती है तो उनसे एक साल में 100 डॉलर वसूला जाता है।
​धूप टैक्स
स्पेन के बैलरिक द्वीपसमूह में साल 2016 से सन टैक्स यानी धूप टैक्स लगाया जा रहा है। दरअसल वहां हर साल 1 करोड़ से ज्यादा पर्यटक आते हैं। इससे स्थानीय संसाधनों पर दबाव पड़ता है।
टैनिंग टैक्स
अमेरिका में साल 2010 से टैनिंग टैक्स लगाया गया है। इसका मुख्य मकसद स्किन कैंसर की रोकथाम है।
जंक फूड पर टैक्स
हंगरी में साल 2011 से हर उन डिब्बाबंद खानों पर टैक्स लगता है जिनमें ज्यादा मात्रा में चीनी और नमक होते हैं। आधिकारिक तौर पर इसे पब्लिक हेल्थ प्रॉडक्ट टैक्स कहा जाता है।
ताश पर टैक्स
अमेरिका में एक राज्य का नाम है अलबामा। अलबामा अमेरिका का एकमात्र ऐसा राज्य है जहां ताश का बंडल खरीदने पर टैक्स लगता है।
​मोटे हो तो भी भरो टैक्स
जापान में है ‘मेटाबो कानून’। इसके मुताबिक, 40 साल से लेकर 75 साल के लोगों की कमर हर साल नापना अनिवार्य है। अगर पुरुष की कमर की लंबाई 85 सेंटीमीटर से ज्यादा होती है तो टैक्स लगता है और महिलाओं की 90 सेंटीमीटर से ज्यादा होने पर।
चॉपस्टिक पर टैक्स
हर साल चीन में डिस्पोजेबल चॉपस्टिक के करीब 45 अरब जोड़े बनाए जाते हैं। इसके लिए करीब 2.5 करोड़ पेड़ों को हर साल काटना पड़ता है जिससे तेजी से पेड़ों की संख्या कम हो रही है। इसे देखते हुए चीन की सरकार ने साल 2006 में लकड़ी की डिस्पोजेबल चॉपस्टिक पर 5 फीसदी टैक्स लगाया।
प्लास्टर टैक्स
ऐल्प्स पर्वतमाल पर स्काइंग के कुछ शौकीन लोग अकसर घायल होते रहते हैं। आमतौर पर वे ऑस्ट्रिया के अस्पतालों में इलाज के लिए जाते हैं। यह देखते हुए ऑस्ट्रिया की सरकार ने मेडिकल सर्विसेज पर एक खास टैक्स लगाया है। पर्यटक जिस रिजॉर्ट में ठहरते हैं, उनके द्वारा यह टैक्स वसूला जाता है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *