IMA के प्रेसीडेंट पर धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने का आरोप, पुलिस में शिकायत

नई दिल्‍ली। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन IMA के राष्‍ट्रीय प्रेसीडेंट डॉ. JA जयलाल (john rose austin jayalal) के खिलाफ दिल्‍ली के मोती नगर थाने में एक शिकायत दर्ज कराई गई है।
एडवोकेट विष्‍णु शर्मा द्वारा की गई इस शिकायत में IMA प्रेसीडेंट डॉ. JA जयलाल पर ईसाई धर्म का प्रचार करने और लोगों को धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया है।
अपनी शिकायत में एडवोकेट विष्‍णु शर्मा ने लिखा है कि IMA के प्रेसीडेंट अपने अनैतिक बयानों से देश में धार्मिक समूहों के बीच दुश्‍मनी पैदा करने का काम कर रहे हैं जिससे देश के लोगों में सद्भाव नष्‍ट हो रहा है।
IMA प्रेसीडेंट द्वारा मीडिया एवं सोशल मीडिया के कई प्‍लेटफॉर्म्‍स पर दुश्‍मनी को बढ़ाने वाला देशद्रोही कृत्‍य किया है।
एडवोकेट विष्‍णु शर्मा ने अपने शिकायती पत्र में बताया है कि उन्‍होंने स्‍वयं एक टीवी डिबेट में डॉ. JA जयलाल को स्‍वामी रामदेव के लिए अपशब्‍दों का इस्‍तेमाल करते हुए सुना है।
यही नहीं, वह स्‍वामी रामदेव के लिए गालियों का उपयोग करते हुए न सिर्फ उनके ऊपर अनर्गल आरोप लगा रहे थे बल्‍कि धमकी भी दे रहे थे।
एडवोकट विष्‍णु शर्मा के अनुसार डॉ. JA जयलाल अपने पद का दुरुपयोग करते हुए देश के खिलाफ काम कर रहे हैं।
उन्‍होंने अपने कथन की पुष्‍टि के लिए शिकायती पत्र के साथ उन तमाम बयानों का ब्‍यौरा भी दिया है जो डॉ. JA जयलाल द्वारा समय-समय पर विभिन्‍न वेबसाइट्स पर दिए हैं।
एडवोकट विष्‍णु शर्मा ने डॉ. JA जयलाल की उस मंशा का भी पता लगाने की मांग की है जिसके लिए वह IMA के पद की आड़ ले रहे हैं। डॉ. जयलाल ने अपने एक साक्षात्कार में यह भी कहा है कि वे चाहते हैं IMA ‘जीसस क्राइस्ट के प्यार’ को साझा करे और सभी को यकीन दिलाए कि जीसस ही व्यक्तिगत रूप से रक्षा करने वाले हैं। उन्होंने कहा था कि चर्चों और ईसाई दयाभाव की वजह से ही विश्व में पिछली कई महामारियों और रोगों का इलाज संभव हो पाया है।
-Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *