सभी सियासी दलों ने मुसलमानों को छलने का काम किया है: कल्बे जव्वाद

प्रसिद्ध शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद मंगलवार को गांव थीतकी गांव पहुंचे। उन्‍होंने पत्रकारों से रूबरू होते हुए राजनैतिक दलों पर मुसलमानों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया। कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को घेरा और अनुच्छेद 370 हटने के बाद कश्मीर के हालात को लेकर बात की।
बहकावे में आकर बंट जाता है मुसलमान
सपा सरकार में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री रहे सैयद ईसा रजा के आवास पर पहुंचे शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा कि कांग्रेस, सपा व बसपा समेत सभी दलों ने मुसलमानों को छलने का काम किया है। सपा की सरकार से मुसलमानों को जरा भी फायदा नहीं पहुंचा। बसपा ने भी अपनी जाति वालों को फायदा पहुंचाने का काम किया। अब भाजपा में भी मुसलमानों का यही हाल है। कहा कि राजनैतिक दलों का मकसद जनता या देश की सेवा करना नहीं, बल्कि किसी भी तरह सत्ता हासिल करना होता है। कांग्रेस ने सत्ता पाने को जनता को बेवकूफ बनाया और भाजपा की पॉलिसी बहुसंख्यकों को खुश करके सत्ता हासिल करना है। चुनाव में मुसलमान किसे वोट करे के सवाल पर मौलाना ने कहा कि 1947 से लेकर आज तक मुसलमान इस पशोपेश में है कि वो किधर जाएं। मुसलमान बहकावे में आकर अलग-अलग जगह बंट जाता है। जिसका राजनैतिक दल फायदा उठाते हैं। बोले कि मुसलमान किसी की हुकूमत बनवाएं इससे कुछ नहीं होगा। बल्कि मुसलमान अपना ऐसा वजूद कायम करें कि मुसलमान जब चाहे हुकूमत गिर जाए।
पाकिस्तान नहीं चाहता कश्मीर में रहे शांति
कश्मीर मामले में मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा कि कश्मीर में जितनी गड़बड़ी फैलती है उसमें पाकिस्तान का हाथ है। अनुच्छेद 370 हटने पर मौलाना ने कहा कि वहां पर हालात सामान्य है। वहां की अवाम का इससे कोई लेनादेना नहीं, लेकिन पाकिस्तान नहीं चाहता कि कश्मीर में अमनो-अमान कायम रहे।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *