अखिलेश का चुनावी दांव, हर जिले में परशुराम की प्रतिमा लगाएगी सपा

लखनऊ। विकास दुबे गैंग के एनकाउंटर के बाद ब्राह्मण समुदाय के एक हिस्से में नाराजगी की खबरें आई थीं। सोशल मीडिया पर भी खबरें शेयर हो रही थीं। अब यूपी में 2022 में विधानसभा चुनाव है। यानी डेढ़ साल से भी कम वक्त बचा है। ऐसे में समाजवादी पार्टी ने बीजेपी के वोट बैंक में सेंध लगाने के लिए ब्राह्मण कार्ड खेला है।
समाजवादी पार्टी की ओर से उत्तर प्रदेश के हर जिले में भगवान परशुराम की प्रतिमा लगाई जाएगी। भगवान परशुराम के साथ ही क्रांतिकारी मंगल पाण्डेय की प्रतिमा भी लगाई जाएगी।
सूत्रों की मानें तो समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ कुछ ब्राह्मण नेताओं की बैठक हुई है। बैठक के बाद फैसला लिया गया कि हर जिले में भगवान परशुराम की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। इसके लिए चंदा भी जुटाया जाएगा।
लखनऊ की प्रतिमा होगी सबसे बड़ी
बैठक में कहा गया कि यूपी की लखनऊ में लगने वाली भगवान परशुराम की यह प्रतिमा यूपी में सबसे ऊंची होगी। इस मूर्ति की ऊंचाई 108 फीट की होगी। कहा जा रहा है कि पार्टी के कुछ ब्राह्मण नेता प्रतिमा लेने के लिए जयपुर पहुंचे हैं। यहां चेतना पीठ ट्रस्ट के तहत प्रतिमा बनेगी। यह भी कहा जा रहा है कि सपा ही प्रतिमा के लिए चंदा लेकर धन जुटाएगी।
सपा विधायक ने कहा वह लगवा रहे हैं प्रतिमाएं
समाजवादी पार्टी के पूर्व कैबिनेट मंत्री मनोज कुमार पाण्डेय ने कहा कि वह प्रबुद्ध महासभा के प्रदेश अध्यक्ष हैं। मूर्ति प्रबुद्ध महासभा की तरफ से लगाने का प्रस्ताव हुआ है। उन्होंने कहा कि क्योंकि वह समाजवादी पार्टी से जुड़े हैं इसलिए प्रतिमा लगवाने को पार्टी से जोड़ जा रहा है लेकिन प्रतिमा वे लोग लगवा रहे हैं।
मंगल पाण्डेय की भी प्रतिमाएं लगेंगी
मनोज पाण्डेय ने बताया कि भगवा परशुराम के साथ ही हर जिले में देश को आजाद कराने के लिए अपना जीवन बलिदान करने वाले क्रांतिकारी मंगल पांडेय की मूर्तियां भी वे लोग हर जिले में लगवाएंगे।
ढूंढी जा रही जगह
समाजवादी पार्टी के विधायक मनोज पाण्डेय ने बताया कि उन्होंने पूर्वांचल और बुंदेलखंड के जिलाध्यक्षों की बैठक बुलाकर पिछले हफ्ते ही मूर्ति लगवाने का फैसला लिया था। हर जिले में प्रतिमा लगाने के लिए जगह देखने को कहा गया है। जगह फाइनल होते ही प्रतिमाओं को लगाने का काम शुरू होगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *