गठबंधन को लेकर फिर बोले अखिलेश, कई बार प्रयोग असफल होते हैं

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (एसपी) और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) गठबंधन को लेकर एसपी चीफ अखिलेश यादव ने एक बार फिर बयान दिया है। अखिलेश ने कहा है कि जिंदगी में कई बार प्रयोग असफल होते हैं लेकिन उससे कमियों का पता चल जाता है।
इतना ही नहीं, उन्होंने इशारों-इशारों में मायावती के साथ भविष्य में चुनाव न लड़ने की बात भी कही। अखिलेश ने गठबंधन के सवाल पर कहा कि अब राजनीति का रास्ता खुला हुआ है।
लखनऊ ईदगाह पहुंचे अखिलेश यादव ने लोगों को ईद की मुबारकबाद दी। अखिलेश ने यहां पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि यह गठबंधन मेरे लिए एक प्रयोग की तरह था, जो भले ही सफल न रहा हो लेकिन मुझे कमियां पता चल गईं।
उन्होंने कहा, ‘मैं साइंस का छात्र रहा हूं। कई ट्रायल होते हैं। कई बार आप कामयाब नहीं होते हैं लेकिन कम से कम आपको कमी पता चल जाती है।’
‘रास्ते अलग लेकिन सम्मान बना रहेगा’
मायावती ने गठबंधन से ब्रेकअप करते हुए कहा था कि राजनीतिक रास्ते अलग हो गए हैं लेकिन डिंपल और अखिलेश से उनके व्यक्तिगत संबंध बने रहेंगे।
इस पर एसपी चीफ ने कहा, ‘मैं आपको भरोसा दिला सकता हूं कि आदरणीय मायावती जी के लिए जो मैंने पहले दिन कहा था, पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में कि मेरा सम्मान उनका सम्मान होगा। आज भी मैं वही बात कहता हूं। ‘
‘अब रास्ता राजनीति में खुला है’
बीएसपी चीफ मायावती ने कहा था कि उनकी पार्टी उपचुनाव अकेले लड़ेगी हालांकि उसके बाद के चुनावों के लिए उन्होंने कहा था कि भविष्य में फैसला लिया जाएगा। अखिलेश ने इशारों में अब दोनों पार्टियों के अलग रास्ते होने की बात कही है।
अखिलेश ने कहा, ‘जहां तक सवाल गठबंधन का है अकेले लड़ने का है, अब रास्ता राजनीति में खुला है। अगर गठबंधन में उपचुनाव में अकेले-अकेले लड़ रहे हैं तो मैं पार्टी के सभी नेताओं से राय मशविरा करके आगे की रणनीति बनाने की दिशा में काम करूंगा।’
एक साल कम हो गई योगी की उम्र
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जन्मदिन को लेकर जब अखिलेश से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा,’मैं जन्मदिन को बहुत गंभीरता से नहीं लेता हूं क्योंकि आपकी उम्र के 1 साल कम हो गए।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »