एयर मार्शल वीआर चौधरी ने संभाला इंडियन एयरफोर्स के नए चीफ का पद

नई दिल्‍ली। इंडियन एयरफोर्स को गुरुवार को अपना नया चीफ मिल गया है। एयर मार्शल वीआर चौधरी आज दोपहर इंडियन एयरफोर्स के नए चीफ का पद संभाल लिया। अब तक वो वाइस चीफ थे। उन्होंने एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया की जगह ली है। चौधरी देश के 27वें वायु सेना प्रमुख बने हैं।
कौन हैं वीआर चौधरी?
वीआर चौधरी का पूरा नाम विवेक राम चौधरी है। वे नेशनल डिफेंस एकेडमी (NDA) के छात्र रहे हैं और डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज से भी ग्रेजुएट हैं। इसी साल 1 जुलाई को एयर मार्शल हरजीत सिंह अरोड़ा के स्थान पर उन्हें 45वां वाइस चीफ ऑफ एयर स्‍टाफ बनाया गया था। एयरफोर्स में ये दूसरी सबसे अहम पोजिशन है।
वायुसेना में करियर
दिसंबर 1982 में वायुसेना की फाइटर स्ट्रीम में बतौर फाइटर पायलट चौधरी की कमीशनिंग हुई। उन्हें MiG-21, MiG-23MF, MiG-29 और Su-30MKI जैसे लड़ाकू विमान उड़ाने का अनुभव है। वायुसेना में अपनी सर्विस के दौरान अब तक 3800 घंटे से ज्यादा देर तक लड़ाकू विमान उड़ा चुके हैं।
इससे पहले चौधरी वायुसेना मुख्यालय में वायु सेना के उप प्रमुख और पूर्वी कमान में सीनियर एयर स्टाफ ऑफिसर के तौर पर काम कर चुके हैं। जुलाई में वाइस चीफ बनने से पहले चौधरी ने पश्चिमी वायु कमान के कमांडर-इन-चीफ के तौर पर काम किया है। पश्चिमी वायु कमान के पास ही पाकिस्तान और चीन के साथ सीमाओं के कुछ हिस्सों की सुरक्षा की जिम्मेदारी है। इसी कमान के पास लद्दाख की सुरक्षा की भी जिम्मेदारी है। पश्चिमी वायु कमान के चीफ के तौर पर एयर मार्शल विवेक चौधरी की पोस्टिंग ऐसे समय पर हुई थी जब पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच सीमा पर विवाद चल रहा था।
किन बड़े ऑपरेशन का हिस्सा रहे हैं?
चौधरी वायु सेना के कुछ बेहद अहम मिशन का हिस्‍सा रहे हैं। उन्‍हीं में ऑपरेशन मेघदूत और ऑपरेशन सफेद सागर शामिल है।
1984 में इंडियन आर्मी ने ऑपरेशन मेघदूत को अंजाम दिया था। इस ऑपरेशन की वजह से ही भारतीय सेना ने कश्‍मीर के सियाचिन ग्लेशियर पर पूरी तरह से कब्जा किया था। इस अभ‍ियान को 13 अप्रैल 1984 की सुबह अंजाम दिया गया था। इसमें वायु सेना ने अहम भूमिका निभाई थी। चौधरी इस ऑपरेशन का हिस्‍सा थे।
करगिल युद्ध के दौरान इंडियन एयरफोर्स ने पाकिस्तान पर हवाई हमले करने के लिए ऑपरेशन ‘सफेद सागर’ चलाया था। इसका मकसद नियंत्रण रेखा के साथ करगिल सेक्टर में भारतीय चौकियों को पाकिस्‍तान के कब्‍जे से खाली कराना था, जिन पर पाकिस्‍तानी सैनिकों ने धोखे से कब्‍जा कर लिया था। इसमें भी विवेक राम चौधरी की बड़ी भूमिका रही थी।
कब तक पद पर रहेंगे?
वीआर चौधरी वायुसेना चीफ के पद पर अगले 3 साल तक रहेंगे। उनका कार्यकाल सितंबर 2024 में खत्म होगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *