यूपी पुलिस में बगावत की आहट के बाद लखनऊ से शुरू हुआ रिफ्रेशर कोर्स

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में विवेक तिवारी हत्याकांड के बाद यूपी पुलिस में बगावत की आहट से आलाकमान सजग हो गए हैं. इसी क्रम में अब यूपी पुलिस में रिफ्रेशर कोर्स शुरू किया गया है. डीजीपी ओपी सिंह ने सोमवार को कहा कि जवानों और अधिकारियों के लिये रिफ्रेशर कोर्स लखनऊ से शुरू किया गया है. इसे पूरे यूपी की पुलिस लाइन में लागू किया जाएगा. डीजीपी ने बताया कि इस रिफ्रेशर कोर्स के जरिये सिपाहियों को निपुण बनाया जाएगा. इससे पुलिस की व्यावसायिक दक्षता में सुधार होने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि यूपी पुलिस के व्यवहार में 25 से 30 प्रतिशत का सुधार हुआ है.
वहीं सिपाहियों के विरोध की तैयारी पर डीजीपी ने कहा कि सोशल मीडिया पर सिपाहियों की एक्टिविटी पर नजर रखी जा रही है. किसी भी कीमत पर अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की गई है और आगे भी अनुशासनहीनता करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी. डीजीपी ने इस दौरान विवेक हत्याकांड के आरोपी सिपाही प्रशांत चौधरी की पत्नी राखी मालिक की अपील पर कहा कि विरोध न करने से जुड़ी राखी की अपील और सोच प्रशंसनीय है.
बता दें उत्तर प्रदेश में पुलिस के सिपाही एक बार फिर विरोध-प्रदर्शन की तैयारी कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर वायरल मैसेज के मुताबिक 5 अक्टूबर की तरह ही 10 अक्टूबर को भी यूपी पुलिस के बागी सिपाही प्रदर्शन करेंगे. खुफिया रिपोर्ट के आधार पर डीजीपी मुख्यालय ने अलर्ट जारी किया है. इस बीच पांच अक्टूबर को काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन करने के मामले में गाजीपुर में दो और सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है. साथ ही 11 पुलिसकर्मियों का तबादला भी कर दिया गया है.
दरअसल, पश्चिम यूपी में पुलिस कर्मियों की ओर से वॉट्सऐप पर मैसेज वायरल किया जा रहा है. जिसमें भड़काऊ बातें हैं. वायरल मैसेज में कहा जा रहा है कि 10 अक्टूबर को अपनी एकता दिखाने का मौका है. इसे लेकर मेरठ खुफिया विभाग के एक अधिकारी का पत्र भी वायरल हो रहा है. जिसमें सहारनपुर, मेरठ और गाजियाबाद के मंडलाधिकारियों से इस पर निगाह रखने का निर्देश दिया गया है. इसे देखते हुए डीजीपी की ओर से भी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं. हालांकि इस सन्दर्भ में पहले ही कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए जा चुके हैं.
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *