अडाणी पोर्ट का फैसला, तीन देशों के कार्गो हैंडल करने पर लगाई रोक

नई द‍िल्‍ली। अडाणी पोर्ट ने फैसला लेते हुए कहा है कि पोर्ट अब अपने टर्मिनल पर ईरान, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आने वाले कार्गो को हैंडल नहीं करेगा। यह फैसला 15 नवंबर से लागू होगा। देश के कार्गो हैंडलिंग में अडाणी ग्रुप का 25% का बाजार हिस्सा है। कंपनी 13 पोर्ट पर अपना ऑपरेशन चलाती है।

सितंबर में बरामद हुआ था ड्रग्स
दरअसल, गुजरात के अडाणी पोर्ट पर ही हाल में बड़े पैमाने पर ड्रग्स पकड़ा गया था। इस वजह से अडाणी के साथ-साथ सरकार की भी जमकर किरकिरी हुई थी। तमाम सारी राजनीतिक पार्टियों ने इसे मुद्दा बना लिया था। अडाणी ग्रुप ने सोमवार को एक स्टेटमेंट जारी किया। इसने कहा कि अडाणी पोर्ट SEZ पर एक्जिम कंटेनर को हैंडल नहीं किया जाएगा। यह नियम तीन देशों पर लागू होगा।

15 नवंबर से लागू होगा फैसला
ग्रुप ने कहा कि 15 नवंबर से इसे लागू किया जाएगा। ग्रुप ने कहा कि यह एडवाइजरी इसके सभी टर्मिनल पर लागू होगी। यही नहीं, किसी तीसरी पार्टी के जरिए भी इस तरह के कार्गो को हैंडल नहीं किया जाएगा। सितंबर में गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर 3 हजार किलो हेरोइन बरामद की गई थी। यह पोर्ट अडाणी ग्रुप चलाता है। इस ड्रग की कीमत 21 हजार करोड़ रुपए आंकी गई थी।

बड़े-बड़े बैग में मिली थी हेरोइन
बरामद हेरोइन में बड़े-बड़े बैग थे। इसमें हेरोइन के अलावा काफी सामान था। बैग में बरामद ड्रग बैग के निचले हिस्से में रखे गए थे और ऊपर से पावडर भरा गया था। पावडर इसलिए भरा गया था ताकि हेरोइन को बरामद न किया जा सके। इस बरामदगी के बाद देशभर में अभियान चलाया गया था और 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इसमें अफगानिस्तान और उज्बेकिस्तान के नागरिक भी थे।

NIA को सौंपा गया था मामला
इस मामले को बाद में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी यानी NIA को सौंप दिया गया था। रविवार को NIA ने कई जगह छापेमारी भी की थी। इस मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय (ED) भी कर रहा है। भारत में यह सबसे बड़ी ड्रग की जब्ती है। NIA ने चेन्नई, कोयंबटूर, विजयवाड़ा में छापा मारा है। साथ ही कई और राज्यों में छापेमारी की तैयारी है।
– एजेंसी

 

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *