Diabetes के मरीजों को डेंजर जोन में डाल सकती है एक गलत डायट

Diabetes के मरीजों को खानपान को लेकर खासतौर पर चौकन्ना रहना पड़ता है क्योंकि एक भी गलत डायट उनके ब्लड शुगर लेवल को बुरी तरह प्रभावित करते हुए उन्हें डेंजर जोन में डाल सकती है। अक्सर Diabetes के मरीज ब्रेकफास्ट में भी ऐसी चीजें शामिल कर लेते हैं जिनके बारे में उन्हें आइडिया भी नहीं होता कि यह उनकी हेल्थ के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं। हम बता रहे हैं ऐसे ही कुछ फूड्स के बारे में जिन्हें मधुमेह के मरीजों को नहीं खाना चाहिए।
जूस
क्या आप भी पैक्ड जूस पीते हैं? अगर हां तो इसका मतलब है कि आप रोज काफी ज्यादा मात्रा में सुबह-सुबह शुगर लेवल ले रहे हैं। दरअसल, पैक्ड जूस में शुगर की मात्रा ज्यादा होती है साथ ही में इसमें शेल्फ लाइफ बढ़ाने के लिए जो चीजें डाली जाती हैं वह भी इंसुलिन लेवल पर असर डालती हैं। ऐसे में यह हेल्दी ड्रिंक हेल्दी नहीं रह जाते। बेहतर यही है कि आप फ्रेश फ्रूट्स खाएं या फिर घर पर ही इनका जूस निकालें।
पीनट बटर, क्रीम या फ्रोजन फूड
खाने में मौजूद अनसैचुरेटिड फैटी ऐसिड को स्टेबल करने के लिए उसमें हाइड्रोजन मिलाया जाता है जिससे ट्रांस फैट बनता है। यह सेहत के लिए नुकसानदेह होते हैं। यह फैट पीनट बटर, ब्रेड स्प्रेड्स, क्रीम्स और फ्रोजन फूड्स में पाए जाते हैं। ट्रांस फैट शरीर में जलन की परेशानी बढ़ाते हैं, बेली फैट बढ़ाते हैं, इंसुलिन को प्रभावित करते हैं और हेल्दी कोलेस्ट्रॉल लेवल को गिराते हैं जो Diabetes के मरीज को दिल की बीमारी के करीब ले जाते हैं।
ब्रेड, पास्ता, चावल
वाइट ब्रेड, पास्ता और चावल हाई कार्ब प्रोसेस्ड फूड होते हैं। टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों में ये चीजें तेजी से ब्लड शुगर लेवल बढ़ाती हैं।
इतना ही नहीं, एक स्टडी में सामने आया था कि इस कार्ब के कारण दिमाग के फंक्शन पर भी बुरा असर पड़ता है।
फ्लेवर वाला दही
प्लेन दही की जगह अगर आपको सुबह-सुबह फ्लेवर वाला दही खाना पसंद है तो आपको ऐसा करना बंद कर देना चाहिए। फ्लेवर वाले दही को आमतौर पर नॉन-फैट और लो-फैट मिल्क से बनाया जाता है और इसमें कार्ब्स व शुगर मौजूद होते हैं। इस तरह के एक कप दही में करीब 47 ग्राम शुगर होती है जो किसी भी तरह से Diabetes के मरीज के लिए अच्छी नहीं है।
मीठे सीरियल्स या कॉर्न फ्लेक्स
क्या आप Diabetes के मरीज हैं और नाश्ते में प्लेन की जगह मीठे सीरियल्स या कॉर्न फ्लेक्स खाना पसंद करते हैं? अगर हां तो इसका मतलब यह है कि आप अपने इस ब्रेकफस्ट फूड के जरिए खुद के लिए खतरा पैदा कर रहे हैं। ये हाइली प्रोसेस्ड होते हैं और इनमें कार्ब्स की मात्रा भी काफी ज्यादा होती है। इनमें स्वीट एलिमेंट जोड़ने के लिए आमतौर पर आर्टिफिशल स्वीटनर का इस्तेमाल किया जाता है तो ब्लड शुगर को सीधे प्रभावित करता है। यह डायबिटीज पेशंट के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।
शहद, मैपल सिरप
मधुमेह से पीड़ित शख्स अक्सर वाइट शुगर या उससे बनी चीजों को खाने से बचते हैं। इसकी जगह वे ब्राउन शुगर, शहद या मैपल सिरप का इस्तेमाल करते हैं लेकिन यह भी बेस्ट ऑप्शन नहीं है। इनमें शुगर लेवल भले ही उतना ज्यादा नहीं होता लेकिन इनमें कार्ब्स काफी होते हैं। यही वजह है कि इनसे ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है जो मरीज के लिए ठीक नहीं है।
ड्राइड फ्रूट्स
फ्रेश फ्रूट्स से व्यक्ति को कई तरह के विटामिन, मिनरल्स और पोटेशियम के साथ ही कई पोषक तत्व मिलते हैं लेकिन ड्राइड फ्रूट्स में ये सभी कॉन्सन्ट्रैटिड फॉर्म में होते हैं। यहां तक की नेचुरल शुगर भी इस फॉर्म में आ जाती है, जिससे ब्लड शुगर लेवल तेजी से बढ़ता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »