रिटायर्ड नेवी ऑफिसर से मारपीट के सभी आरोपियों को मुंबई पुल‍िस ने दी ज़मानत

मुंबई। मुंबई के कांदिवली ईस्ट में कल शुक्रवार को रिटायर्ड नेवी ऑफिसर मदन शर्मा से मारपीट मामले में गिरफ्तार छह शिवसैनिकों को 12 घंटे के अंदर ही छोड़ दिया गया। आरोपियों को जमानत मिलने के बाद शर्मा के परिवार ने तमाम तरह के सवाल खड़े किए हैं। शर्मा की बेटी शीला शर्मा ने महाराष्ट्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यहां इंसानियत नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। दोषियों पर हत्या का केस दर्ज होना चाहिए। यहां राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए।

शीला ने कहा, ‘‘मैं इस घटना से बेहद दुखी हूं। इन आरोपियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए, वरना ये फिर से इसी तरह की हरकतों को अंजाम दे सकते हैं।’’ शीला ने बताया कि फोन पर धमकियों के बाद शिवसैनिक उनके घर आए। शिवसैनिकों ने उनके पिता को बात करने के बहाने नीचे बुलाया और मारपीट की। उन्होंने यह भी कहा है कि शिवसेना के लोग सत्ता का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं।

इस बीच 65 साल के पूर्व नेवी ऑफिसर ने कहा कि घटना के 45 मिनट बाद उलटे पुलिस उन्हें ही गिरफ्तार करने पहुंची थी। उन्होंने कहा कि मैंने अपनी पूरी जिंदगी देश के लिए काम किया है। इस तरह की सरकार का अस्तित्व नहीं होना चाहिए।

पुलिस स्टेशन से ही मिल गई जमानत
सभी पर जमानती धाराएं लगाई गई थी, इसी आधार पर इन्हें पुलिस स्टेशन से ही जमानत दे दी गई। इनमें शिवसेना के शाखा प्रमुख कमलेश कदम और पदाधिकारी संजय मांजरे भी शामिल हैं। शर्मा की शिकायत पर समता नगर पुलिस स्टेशन में छह नामजद और दो अज्ञात लोगों पर एफआईआर दर्ज हुई है।

बेटे ने कहा- परिवार को भी जान का खतरा
मदन शर्मा के बेटे सनी शर्मा ने कहा कि वे मुंबई में पैदा हुए और यहीं उनकी जिंदगी बीती है। उन्होंने आरोप लगाया कि नॉर्थ इंडियन होने की वजह से उनके पिता के साथ मारपीट की गई। शिवसैनिकों ने उम्र का लिहाज भी नहीं किया। अब उन्हें डर लगने लगा है कि आगे भी उनके और उनके परिवार के साथ ऐसी घटनाएं हो सकती हैं।

भाजपा करेगी प्रदर्शन
भाजपा के कुछ नेता शनिवार को शर्मा का हाल जानने के लिए हॉस्पिटल पहुंचे थे। इसके बाद उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर मुंबई में भाजपा शहर के अलग-अलग हिस्सों में प्रदर्शन करेगी। मदन शर्मा से भाजपा नेता किरीट सोमैया ने भी मुलाकात की।

रतन राजपूत ने जताई निराशा
रतन राजपूत ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर इस घटना के प्रति निराशा जताई है। रतन ने इसे शर्मनाक, डरावना और निराशाजनक बताते हुए लिखा- काश, आज हमारे बीच श्री बालासाहेब ठाकरे जी होते।’’ इसी के साथ उन्होंने रियल टाइगर को मिस करने की बात लिखी है।

फडणवीस ने कहा- गुंडा राज रोकिए उद्धव जी
महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव ठाकरे सरकार पर ट्वीट कर हमला बोला। फडणवीस ने कहा, “काफी दुखद और अचंभित करने वाली घटना। रिटायर्ड नेवी ऑफिसर की सिर्फ इसलिए पिटाई की गई, क्योंकि वॉट्सऐप पर फॉरवर्ड किया था। कृपया गुंडाराज रोकिए उद्धव जी। हम ऐसे गुंडों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और सजा की मांग करते हैं।”

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *