हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की हत्‍या के मामले में 7 लोग गिरफ्तार

नई दिल्‍ली। राजधानी दिल्ली में पिछले महीने भड़की हिंसा में दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के मौत के सिलसिले में 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
पुलिस ने बताया कि दिल्ली में अब हालात सामान्य है। पुलिस ने बताया कि हिंसा के मामले में 712 प्राथमिकी दर्ज करने के साथ ही 200 से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।
सॉफ्टवेयर के जरिए आरोपियों की पहचान
आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने कहा कि चेहरे की पहचान करने वाले सॉफ्टवेयर की मदद से दंगे में शामिल लोगों की पहचान की गई है और घटना की सभी कोणों से जांच की जा रही है।
रंधावा ने कहा, ‘दिल्ली में अब कानून-व्यवस्था के हालात सामान्य हैं। उत्तर-पूर्वी दिल्ली से आने वाली पीसीआर कॉल की हम करीब से निगरानी कर रहे हैं।’
ये 7 लोग हुए हैं गिरफ्तार
दिल्ली हिंसा के दौरान हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत हो गई थी। अब दिल्ली पुलिस ने जांच के बाद इस मामले में 7 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर के उन्हें गिरफ्तार किया है। इनमें से एक मोहम्मद दानिश गाजियाबाद का रहने वाला है, बाकी सभी 6 दिल्ली के चांद बाग में रहते हैं। इनमें सलीम मलिक, मोहम्मद जलालुद्दीन, मोहम्मद आयुब, मोहम्मद यूनुस, मोहम्मद आरिफ और मोहम्मद सलीम खान हैं।
CAA के खिलाफ चल रहा था प्रदर्शन
छानबीन के बाद पुलिस को पता चला है कि यह घटना जहां पर हुई, वहां सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा था। जिस दिन घटना हुई, उस दिन के लिए पहले से ही साजिश की गई थी कि पुलिस पर हमला करना है। पुलिस ने इससे जुड़े सबूत जमा कर लिए हैं। गिरफ्तार किए गए लोगों में दंगाई भी हैं और साजिशकर्ता भी।
नाले से 4 शव बरामद होने के मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनके नाम पंकज, लोकेश, सुमित और अंकित हैं। इसके अलावा अकबरी देवी मामले में पुलिस ने दो सगे भाइयों अरुण और वरुण को गिरफ्तार किया है। पुलिस दिल्ली हिंसा में लगातार छानबीन कर रही है और दोषियों तक अपनी पहुंच बनाने की हर संभव कोशिश में लगी है। इसके लिए वह लोगों से उनके बात मौजूद वीडियो क्लिप भी मांग रही है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *