संस्कृति विवि में शुरू हुआ पांच दिवसीय स्काउट-गाइड शिविर

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय में आज पांच दिवसीय स्काउट-गाइड शिविर का शुभारंभ परंपरागत ध्वजारोहण के साथ हुआ। विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ एजुकेशन के विद्यार्थी इस शिविर में भाग ले रहे हैं। इस मौके पर स्काउट एंड गाइड इंस्ट्रक्टर्स ने छात्र-छात्राओं को स्काउट एंड गाइड नियम व सिद्धांतों की जानकारी दी।

संस्कृति विश्वविद्यालय के मुख्य मैदान में आयोजित पांच दिवसीय स्काउट-गाइड शिविर के शुभारंभ के अवसर पर स्काउट गाइड इंस्ट्रक्टर रमेशचंद्र शर्मा ने विद्यार्थियों को स्काउट-गाइड के आधारभूत सिद्धांत बताते हुए कहा कि स्काउट-गाइड देशभक्त, साहसी, अग्रगामी, बुद्धिमान और दूरदर्शी नागरिक निर्माण करने वाली संस्था है। संस्थापक लार्ड पावेल द्वारा संकल्पित किए गए लक्ष्य, सिद्धांत व पद्धति के अनुरूप है। उन्होंने इस मौके पर छात्र-छात्राओं को ईश्वर, धर्म और देश के लिए समर्पण, दूसरों के लिए समर्पण तथा स्वयं के प्रति कर्तव्य के पालन की शपथ दिलाई। प्रार्थना के बाद विद्यार्थियों ने ध्वजारोहण के साथ ध्वजगान किया।

इसी क्रम में स्काउट गाइड प्रशिक्षकों ने छात्र-छात्राओं की टोलियां बनाकर नायक और उप नायक का निर्धारण किया। प्रशिक्षकों ने विद्यार्थियों को रस्सी में गांठें लगाना, तंबू निर्माण करना सिखाया। संस्कृति विवि के छात्र-छात्राओं ने बड़े उत्साह और हर्ष के साथ सभी गतिविधियों में भाग लिया। स्काउट गाइड प्रशिक्षक मनोज कुमार शर्मा, लक्ष्मी नारायण व विनोद कुमार शर्मा ने विद्यार्थियों को स्काउट-गाइड के शिष्टाचार से अवगत कराया।

इस मौके पर संस्कृति विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ एजूकेशन के डीन डा. महमूद खान, डा.दिनेश कुमार निमेष, डा. मनीष पसारिया, डा. निशा चंदेल, डा. अनीता जग्गी, डा.करमजीत, जयप्रकाश, शहवाज अली आदि भी मौजूद थे।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *