ढाका के इस्कॉन मंदिर परिसर में 31 लोग मिले संक्रमित, परिसर सील

ढाका। बांग्लादेश की राजधानी ढाका के एक इस्कॉन मंदिर परिसर में 31 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। नए मामलों के साथ देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5000 के करीब पहुंच गई है। अब तक 140 लोगों की मौत हो चुकी है।
स्थानीय मीडिया और पुलिस के अनुसार स्वामीबाग इलाके में स्थित इस्कॉन आश्रम के 31 लोगों की कोरोना जांच पॉजिटिव आई है। संक्रमित लोगों को अलग रखकर उनका इलाज कराया जा रहा है। संक्रमण की रोकथाम के लिए पुलिस ने पूरे परिसर को सील कर दिया है। इस परिसर में मंदिर के पुरोहित समेत सौ से ज्यादा लोग रह रहे थे।
स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अभी तक जितने लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और जितने लोगों की जांच की जा रही है, उस संदर्भ में मौजूदा संख्या वास्तविक स्थिति की सिर्फ एक झलक मात्र हो सकती है।
अधिकारी ने कहा कि सीमित स्वास्थ्य सुविधाओं और अस्पतालों में वेंटिलेटर सहित अन्य उपकरणों की कमी के कारण यदि संक्रमण देश में तेजी से फैला तो हालात और खराब हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम के कुछ विकसित देशों को भी बुजुर्गों को वेंटिलेटर नहीं देने जैसे कठोर फैसले लेने पड़े ताकि वे संक्रमण से ग्रस्त युवाओं के लिए इसे बचाकर रख सके।
अधिकारी ने कहा कि अगर वायरस संक्रमण के प्रसार को लॉकडाउन बढ़ा कर, लोगों को एक-दूसरे से दूरी बनाकर रखने को कह कर, या किसी भी तरीके से रोका नहीं गया तो हमें भी ऐसे ही फैसले लेने पड़ेंगे।” डीजीएचएस के निदेशक प्रोफेसर नजमुल इस्लाम मुन्ना ने कहा कि बांग्लादेश में कोविड-19 की जांच के लिए 17 प्रयोगशालाएं हैं जो एक दिन में कम से कम 3,060 नमूनों की जांच कर सकती हैं, लेकिन हमें अभी भी संसाधनों का पूर्ण उपयोग सुनिश्चित करना होगा। उन्होंने कहा कि अप्रैल के अंत तक देश में ऐसे प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़ाकर 28 करने के प्रयास जारी हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *