1993 मुंबई धमाके के दोषी यूसुफ मेमन की जेल में मौत

नई द‍िल्ली। साल 1993 में हुए मुंबई सीरियल बम धमाके के दोषी यूसुफ मेनन की शुक्रवार को महाराष्ट्र की नासिक रोड जेल में मौत हो गई। इस मामले के मुख्य आरोपी टाइगर मेमन का भाई यूसुफ उम्रकैद की सजा काट रहा था। उस पर सीरियल धमाकों की साजिश में शामिल होने का आरोप था। उसकी मौत की वजह अभी साफ नहीं हो पाई है।

यूसुफ मेमन को साल 2007 में उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। पहले वह मुंबई की ऑर्थर रोड जेल में बंद था। साल 2018 में उसे नासिक की जेल में भेज दिया गया था। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार उसकी मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है। उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

बता दें कि साल 1993 में देश की आर्थिक राजधानी मुंबई एक के बाद हुए 12 बम धमाकों से कांप उठी थी। 12 मार्च को दो घंटे और 10 मिनट के अंदर हुए इन 12 धमाकों की चपेट में आकर करीब 317 लोग मारे गए थे। इस धमाके में अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद इब्राहिम का नाम भी आया था। इसी घटना के बाद दाऊद भारत छोड़ कर भाग गया था।

इस सीरियल धमाके में टाइगर मेमन को भगोड़े गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के साथ विस्फोट की साजिश का मास्टरमाइंड बताया गया था। वहीं, यूसुफ पर आतंकवादी गतिविधियों के लिए मुंबई में अल-हुसैनी इमारत में अपने फ्लैट और गैराज की अनुमति देने का आरोप लगाया गया था।

वहीं, इसी मामले में गिरफ्तार किए गए यूसुफ के एक और भाई याकूब मेमन को साल 2015 में फांसी दे दी गई थी। एक विशेष टाडा अदालत ने यूसुफ को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *